Breaking News

अन्तर्राष्ट्रीय

सुषमा का मंगोलिया दौरा होगा बेहद ख़ास, ये बड़ी वजह

मंगोलिया: भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज 25 और 26 अप्रैल को मंगोलिया का दौरा करेंगी, इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2015 में इस मुल्क के दौरे पर जा चुके हैं, उसी सिलसिले को आगे बढ़ने के लिए सुषमा भी मंगोलिया जाकर वहां के विदेश मंत्री डैमडिन सोगतबातर के साथ भारत-मंगोलिया की संयुक्त सलाहकार समिति के छठे दौर की बैठक की सह-अध्यक्षता करेंगी. गौरतलब है कि भारत और मंगोलिया ने पीएम मोदी के मंगोलिया दौरे के दौरान सामारिक साझेदारी के लिए संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए थे. उस वक़्त पीएम मोदी ने मंगोलिया के विकास के लिए 1 अरब डॉलर बतौर कर्ज देने का एलान किया था, जिसका उपयोग मंगोलिया आयल रिफाइनरी बनाने में कर रहा है. दोनों देश के विदेश मंत्रियों के बीच मंगोलिया में चल रही परियोजनाओं पर चर्चा की जाएगी. आपको बता दें कि 2015 में जब पीएम मोदी ने मंगोलिया का दौरा किया था, उसी साल भारत-मंगोलिया के कूटनीतिक रिश्तों की 60वीं वर्षगांठ भी थी. इससे पहले मात्र सोवियत संघ ऐसा देश था जिसने मंगोलिया के साथ कूटनीतिक रिश्ते स्थापित किए थे. इस घटनाक्रम के कुछ साल बाद भारत ने संयुक्त राष्ट्र में मंगोलिया की सदस्यता का समर्थन किया, जबकि चीन और ताइवान इसके खिलाफ थे.दोनों देशों के बीच तमाम दूरी के बावजूद मंगोलिया की तरफ से भारत को 'तीसरे पड़ोसी' के अलावा 'आध्यात्मिक पड़ोसी' भी माना जाता है.

 भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज 25 और 26 अप्रैल को मंगोलिया का दौरा करेंगी, इससे पहले  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2015 में इस मुल्क के दौरे पर जा चुके हैं, उसी सिलसिले को आगे बढ़ने के लिए सुषमा भी ...

Read More »

शी जिनपिंग के न्योते पर पीएम मोदी चौथी बार पहुंचेंगे चीन, जानिए किन अहम मुद्दों पर हो सकती है बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग द्विपक्षीय और अंतरराष्ट्रीय मामलों पर विचारों का आदान प्रदान करने तथा दोनों देशों के बीच परस्पर संवाद को बढ़ावा देने के लिए 27 और 28 अप्रैल को साम्यवादी देश के वुहान शहर ...

Read More »

मैक्सिको में बढ़ रही है हिंसक घटनाएं, 3 महीने में 7,667 लोगों की हत्या

विश्व में कई देशों में पिछले दिनों काफी हिंसक घटनाओं में इजाफा हुआ है. अब मैक्सिको में हत्याओं के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं वर्ष 2018 की पहली तिमाही में हिंसक अपराधों में 7,667 लोगों की हत्याएं हुई हैं. जो कि ...

Read More »

सिंगापुर : 164 साल पुराने मंदिर का हो रहा है पुन:निर्माण, प्रधानमंत्री ली सनी लूंग ने की शिरकत

सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सनी लूंग 2004 में सत्ता की बागडोर संभालने के बाद पहली बार यहां 164 साल पुरानी एक हिन्दू मंदिर के पुनर्निर्माण समारोह में करीब 40,000 श्रद्धालुओं और चार मंत्रियों के साथ पहुंचे. इस मंदिर पुनर्निर्माण कार्य 45 ...

Read More »

अफगानिस्तान: मुठभेड़ में पुलिस ने ISIS के 10 आतंकी मारे

यहाँ चुनावी केन्द्रो पर आतंकी हमले जारी है. इसी बिच यहाँ के  जाजान प्रांत में इस्लामिक स्टेट के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ में 10 आतंकवादी ढेर हो गए. इस अभियान में एक सैनिक की भी मौत हो गई. वहीं ...

Read More »

‘मारो और फेंको’ पॉलिसी पाक में बदतर स्तर पर- पाउलो कसाका

ब्रसेल्स : साउथ एशिया डेमोक्रैटिक फोरम (SADF) के एक वरिष्ठ सदस्य ने पाकिस्तान में मानवाधिकारों के खराब रेकॉर्ड पर यूरोपियन यूनियन की रिपोर्ट पर प्रश्न चिन्ह लगते हुए कहा है कि इस्लामाबाद की 'मारो और फेंको' पॉलिसी पहले से भी बदतर स्तर पर पहुंच गई है. ईयू ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि पाकिस्तान में मानवाधिकारों की स्थिति सुधर रही है. SADF के एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर पाउलो कसाका ने कहा कि वह इस बात से सहमत नहीं हो सकते कि पाकिस्तान में मानवाधिकारों की स्थिति में सुधार आ रहा है. उन्होंने कहा कि उनके पास इस बात के सबूत हैं जिससे साबित हो सके कि स्थिति वास्तव में पहले से भी बुरी हो गई है. एक लेख में कसाका ने कहा कि पाकिस्तान में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं का अपहरण जारी है. इतना ही नहीं इसके बाद उन्हें मार दिया जाता है और फिर कुछ दिन बाद जब शव मिलते हैं तो उसपर टॉर्चर के निशान मिलते हैं. कसाका कहते हैं कि उन्हें यह देखकर कोई हैरानी नहीं होती कि इस्लाम और मोहम्मद पैगंबर के अपमान का हवाला देकर लोगों की हत्या के बढ़ते मामलों को देखने के बावजूद कोई भी नेता ईशनिंदा कानूनों के खिलाफ चर्चा की हिम्मत नहीं करता. कसाका कहते हैं कि सबसे ज्यादा चिंता की बात यह है कि पाकिस्तान में उसके नागरिकों को सुरक्षित रखने के लिए कोई ठोस कानून नहीं है. कसाका अंत में लिखते हैं कि बलूचिस्तान में मानवाधिकारों के हनन के असंख्य मामलों को देखने के बावजूद यूरोपियन यूनियन ने इस तरफ आंखे मूंद ली है, जो कि अस्वीकार्य है. कसाका कहते हैं, 'शवों को क्षत विक्षत करना इस बात का प्रतीक है कि पाकिस्तान का कानून कमजोर लोगों को निशाना बनाता है, जिनमें अल्पसंख्यक, गरीब, मानसिक रोगी और बच्चे शामिल हैं.' कसाका ने अपने पक्ष को साबित करने के लिए साल 2017-18 की ऐमनेस्टी इंटरनैशनल की रिपोर्ट का हवाला दिया. कसाका ने कहा, 'बीते साल जून में फेसबुक पर एक कथित ईशनिंदा वाले पोस्ट को लेकर तैमूर रजा को पंजाब प्रांत में आंतकरोधी अदालत ने मौत की सजा सुनाई. सितंबर में एक ईसाई नदीम जेन्म को कोर्ट ने वॉट्सऐप पर ईशनिंदा वाली कविता साझा करने के आरोप में मौत की सजा सुनाई.' कसाका ने अपने लेख में ईसाई महिला आसिया बीबी उर्फ आसिया नौरीन के मामले का भी जिक्र किया, जिसे नवंबर 2010 में एक जिला कोर्ट ने ईशनिंदा के आरोप में ही मौत की सजा सुनाई थी.

 साउथ एशिया डेमोक्रैटिक फोरम (SADF) के एक वरिष्ठ सदस्य ने पाकिस्तान में मानवाधिकारों के खराब रेकॉर्ड पर यूरोपियन यूनियन की रिपोर्ट पर प्रश्न चिन्ह लगते हुए कहा है कि इस्लामाबाद की ‘मारो और फेंको’ पॉलिसी पहले से भी बदतर स्तर ...

Read More »

अमेरिका में भारतीय मूल के लड़के को गोली मारी

अमेरिका: हथियार रखने के अपराध में एक भारतीय मूल के एक अमेरिकी किशोर को कैलिफोर्निया पुलिस ने गोली मार दी. यह मारा गया युवक हथियार रखने के मामले में वॉन्टेड था. पुलिस रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस की गोली लगने के बाद उसकी मौत हो गयी. किशोर ने पुलिस पर गोली चलाई थी जिसके बाद उसे गोली मारी गयी. यहाँ की फ्रीमोंट पुलिस डिपार्टिमेंट ने मामले में जांच रिपोर्ट जारी की है. इसके अनुसार, मारे गए किशोर की पहचान 18 साल के नाथनील प्रसाद के रूप में हुई है. उसे पांच अप्रैल को गोली मारी गयी थी जिसमें उसकी मौत हो गई. नाथनील प्रसाद एक अपराध के सिलसिले में वॉन्टेड था और 22 मार्च को गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार हो गया था. फ्रीमोंट पुलिस डिपार्टमेंट ने पांच अप्रैल को फ्रीमोंट इलाके में एक गाड़ी में जा रहे प्रसाद को पहचान लिया. इसके बाद पुलिस रेडियो पर गाड़ी के बारे में सूचना देने लगी और पुलिस की टीम सक्रिय हो गए. की गई जांच रिपोर्ट के अनुसार, गाड़ी के ड्राइवर ने गाड़ी रोकी और प्रसाद वहां से भाग गया. पुलिस ने बताया कि इसके बाद प्रसाद ने पुलिस अधिकारी को निशाना बनाकर गोली चलाई, जिसके जवाब में अधिकारी ने भी प्रसाद पर गोली चलाई. गोली लगने के बाद प्रसाद जमीन पर गिर पड़ा और उसकी मौत हो गई.

 हथियार रखने के अपराध में एक भारतीय मूल के एक अमेरिकी किशोर को कैलिफोर्निया पुलिस ने गोली मार दी. यह मारा गया युवक हथियार रखने के मामले में वॉन्टेड था. पुलिस रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस की गोली ...

Read More »

भारत की विकास दर बढ़ेगी-IMF

अमेरिका: एशिया प्रशांत विभाग अंतर्राष्ट्रीय मौद्रिक कोष के उपनिदेशक केन कांग ने वॉशिंगटन में संवाददाता सम्मेलन में कहा, "भारत की विकास दर 2017-18 में 7.4 फीसदी से बढ़कर 2019 में 7.8 फीसदी होने का अनुमान है. हमें उम्मीद है कि क्षेत्र में भारत की भूमिका का लगातार विस्तार होता रहेगा." आगे उन्होंने कहा, "भारत के पास अपना निर्यात बढ़ाने और व्यापार और गैर व्यापारिक बाधाओं को दूर करने की गुंजाइश है." उन्होंने कहा, "भारत में वैधानिक टैरिफ दर क्षेत्र के अन्य देशों की तुलना में कहीं अधिक लगभग 15 फीसदी है. इसलिए व्यापार सुधारों की गुंजाइश है." केन कांग ने 20 अप्रैल को कहा कि आईएमएफ को आशा है कि भारत की तेज विकास दर की वजह से प्रशांत क्षेत्र के विकास में भारत की भूमिका का लगातार विस्तार होता रहेगा, साथ में यह भी कहा कि इसे और व्यापारिक सुधार करने होंगे. अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) की प्रमुख क्रिस्टीन लेगार्ड ने गुरुवार 19 अप्रैल को कहा कि उन्हें नहीं लगता कि चुनावी साल में भारत में आर्थिक सुधारों की रफ्तार कायम रह पाएगी. अंतरराष्ट्रीय वित्त संगठनों की बैठक के मौके पर संवाददाताओं से बातचीत में लेगार्ड ने कहा, ‘‘हमने इसे देखा और हम इसे देख रहे हैं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि अगले कुछ महीनों में हम ऐसा देखेंगे.

 एशिया प्रशांत विभाग अंतर्राष्ट्रीय मौद्रिक कोष के उपनिदेशक केन कांग ने वॉशिंगटन में संवाददाता सम्मेलन में कहा, “भारत की विकास दर 2017-18 में 7.4 फीसदी से बढ़कर 2019 में 7.8 फीसदी होने का अनुमान है. हमें उम्मीद है कि क्षेत्र ...

Read More »

“विश्व पृथ्वी दिवस” हमने यह ठाना है,पृथ्वी हमे बचाना है

पृथ्वी एक बहुत व्यापक शब्द है, इसमें जल, हरियाली, वन्यप्राणी, प्रदूषण और इससे जु़ड़े अन्य कारक भी शामिल हैं .पृथ्वी पर जीवन इन सभी कारको के बिना संभव नहीं है और न ही इनके बिना जीवन की कल्पना की जा सकती है. आज अर्थ दिवस को मनाना केवल औरचारिकता बन चुका है, जिसका बुरा प्रभाव कहीं न कहीं हमारे जीवन को ही प्रभावित करेगा. आप सभी ने यह तो जरूर पढ़ा होगा की पृथ्वी हमे जो देती है उसके फलस्वरुप हमें भी उसकी रक्षा करनी पड़ती है . अगर हम केवल उससे लेते ही रहेंगे तो एक दिन पृथ्वी का अमूल्य भंडार समाप्त हो जायेगा और मानव जीवन पर संकट आ जायेगा . दुनिया भर में हर साल 22 अप्रैल को मनाया जाने वाला पृथ्वी दिवस अब महज औपचारिकता से ज्यादा कुछ नहीं बचा . पर क्या आप जानते है इस चेतना की शुरुआत कहाँ से हुई और किसने की.दरअसल 1969 में सांता बारबरा, कैलिफोर्निया में तेल रिसाव के कारण हुई भारी बर्बादी को देखने के बाद अमेरिकी सीनेटर गेलॉर्ड नेल्सन ने इसकी शुरूआत की थी. उन्होंने इस उद्देश्य की पूर्णता के लिए वहां के स्कूल और कॉलेजों के युवा छात्रों को इसमें शामिल कर इसे एक विश्वव्यापी आंदोलन का रूप दिया जिसके फलस्वरूप विश्व में पृथ्वी की रक्षा को लेकर कई कदम भी उठाये गए. आज इसे 192 से अधिक देशों में प्रति वर्ष मनाया जाता है. यह तारीख उत्तरी गोलार्द्ध में वसंत और दक्षिणी गोलार्द्ध में शरद का मौसम है. इस साल यानी 2018 पृथ्वी दिवस का थीम है प्लास्टिक प्रदूषण की समाप्ति.पृथ्वी को पर्यावरणमुक्त बनाने के लिए हम ज्यादा कुछ नहीं कर सकते, तो कम से कम इतना तो करें कि पॉलिथीन के उपयोग को नकारें, कागज का इस्तेमाल कम करें और रिसाइकल प्रक्रिया को बढ़ावा दें क्योंकि जितनी ज्यादा खराब सामग्री रिसाइकल होगी, उतना ही पृथ्वी का कचरा कम होगा.

पृथ्वी एक बहुत व्यापक शब्द है, इसमें जल, हरियाली, वन्यप्राणी, प्रदूषण और इससे जु़ड़े अन्य कारक भी शामिल हैं .पृथ्वी पर जीवन इन सभी कारको के बिना संभव नहीं है और न ही इनके बिना जीवन की कल्पना की जा ...

Read More »

किंग सलमान के महल के पास उड़ रहा था ड्रोन, मार गिराया

रियाध: सऊदी अरब की राजधानी स्थित किंग सलमान के राजमहल के पास शनिवार को एक ड्रोन उड़ता देखा गया, जिसको देखकर सुरक्षाबलों को चिंता हुई और उन्होंने सुरक्षा को प्रार्थमिकता देते हुए ड्रोन पर गोलीबारी करते हुए उसे गिरा दिया. यह ड्रोन राजमहल के आसपास लगे हुए सीसीटीवी कैमरों में भी क़ैद हो गया, जिसके बाद से इसका वीडियो भी वायरल होने लगा. सुरक्षाबलों ने बताया कि भारतीय समय अनुसार 7.50 बजे एक छोटे ड्रोन को राजमहल के आस-पास उड़ते देखा गया था, जिसके बाद राजमहल के वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारियों ने सुरक्षा कर्मियों को उसे मार गिराने के निर्देश दिए थे. स्थानीय ख़बरों के मुताबिक, इस दौरान किसी प्रकार की जान या माल की हानि नहीं हुई है. सूत्रों ने बताया है कि सऊदी के किंग सलमान भी रॉयल पैलेस में मौजूद नहीं थे, वे किसी से भेंट करने दिरिया गए हुए थे. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में दिख रहा है कि रियाद के रॉयल पैलेस के पास करीब 30 सेकंड तक गोलीबारी हुई है. वहीं सऊदी पुलिस बही इस मामले की जांच कर रही है, पता लगाया जा रहा है कि ड्रोन किस व्यक्ति का था और किस वजह से वो रॉयल पैलेस के पास उड़ रहा था. सुरक्षाबलों ने इसे किसी प्रकार के राजनीतिक हमले से जुड़े होने की आशंका जताई है. गौरतलब है कि सऊदी अरब ने पिछले साल राजा के बेटे प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के तहत कट्टरपंथी राजनीतिक परिवर्तनों की एक श्रृंखला देखी है, जिन्होंने अर्थव्यवस्था को बदलने के लिए सुधारों का नेतृत्व किया है. सऊदी के किंग ने कई बड़े नेताओं को कारावास में भी डाल दिया है, इसीलिए सुरक्षाबलों ने आशंका जताई है कि हो सकता है किसी राजनीतिक फायदे के लिए यह ड्रोन भेजा गया हो. हालांकि पुलिस भी जांच कर रही है, फ़िलहाल स्थिति नियंत्रण में है.

  सऊदी अरब की राजधानी स्थित किंग सलमान के राजमहल के पास शनिवार को एक ड्रोन उड़ता देखा गया, जिसको देखकर सुरक्षाबलों को चिंता हुई और उन्होंने सुरक्षा को प्रार्थमिकता देते हुए ड्रोन पर गोलीबारी करते हुए उसे गिरा दिया. ...

Read More »