Breaking News

राजनीति

कर्नाटक चुनाव: ये हैं कर्नाटक के रण के करोड़पति

बंगलुरु: कर्नाटक में विधान सभा चुनाव 12 मई से शुरू हो रहे हैं, ऐसे में सभी प्रत्याशी अपने-अपने हलफनामे में अपनी संपत्ति का ब्यौरा दिया है, जिसमे चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं, अगर सबसे अमीर प्रत्याशी की बात करें तो जनता दल नेता एचडी कुमारस्वामी आगामी कर्नाटक विधानसभा चुनावों में सबसे अमीर मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं. इसके बाद दूसरे पायदान पर कांग्रेस पार्टी के मौजूदा मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और तीसरे नंबर पर बीजेपी के राज्य प्रमुख बीएस येदियुरप्पा का नाम आता है. पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा के बेटे एचडी कुमारस्वामी, जो दो सीटों से विधान सभा चुनाव लड़ेंगे, उन्होंने अपने हलफनामे में बताया कि उनकी और उनकी पत्नी की कुल संपत्ति मिलाकर 167 करोड़ रुपए की है, हालांकि उन्होंने यह भी बताया कि उनपर 103 करोड़ की देनदारी भी है. बता दें कि सिद्धारमैया ने राज्य के मैसूर स्थित चामुण्डेश्वरी सीट से तो वहीं कुमारस्वामी ने रामानगर और चन्नपत्ना से नामंकन किया है, सिद्धारैमया के पास 11.20 करोड़ रुपए की चल और अचल संपत्ति है, उनकी पत्नी पार्वती के पास 7.60 करोड़ रुपए की संपत्ति है,उन्होंने 1.55 करोड़ रुपए की संपत्ति हिन्दू अविभाजित परिवार के तहत भी घोषित की है, जिससे उनकी कुल संपत्ति लगभग 20 करोड़ की हो जाती है. वहीं पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी इस चुनाव में दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं. इसमें रामानगर और चन्नपत्ना शामिल है. आपको बता दें कि रामानगर को कुमारस्वामी का गढ़ माना जाता है, 2013 के चुनावों में भी उन्होंने रामानगर से 40000 वोटों से बड़ी जीत दर्ज की थी. जबकि उनकी पत्नी अनीता कुमारस्वामी, चन्नपत्ना में तत्कालीन समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार योगीश्वरा के खिलाफ चुनाव हार गई थी. कुमारस्वामी ने अपनी चल और अचल संपत्तियां रु 42.91 करोड़ रुपये और उनकी पत्नी की रु 124.22 करोड़ घोषित की है, आपको बता दें कि उनकी पत्नी एक उद्यमी हैं.

 कर्नाटक में विधान सभा चुनाव 12 मई से शुरू हो रहे हैं, ऐसे में सभी प्रत्याशी अपने-अपने हलफनामे में अपनी संपत्ति का ब्यौरा दिया है, जिसमे चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं, अगर सबसे अमीर प्रत्याशी की बात करें तो ...

Read More »

देश से दो मोदी पहले ही भाग गए, बाकी का पासपोर्ट जब्त हो- तेजस्वी

पटना : यशवंत सिन्हा के बीजेपी छोड़ने को लेकर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा है कि उनके इस निर्णय ने आज बड़ी सीख दी है. तेजस्वी ने पटना में कहा कि यशवंत सिन्हा को लोग जेपी की भूमिका में देखना चाहते हैं. ऐसे में आप हमारी अगुआई करें. हम सभी आपके साथ रहेंगे. पटना में राष्ट्र मंच से तेजस्वी ने कहा कि 2019 में हम विकास के साथ होंगे या फिर विनाश के साथ, ये हमें और आपको तय करना है. नीतीश पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि चाचा अपने स्वार्थ की राजनीति छोड़ें और उन्हें यशवंत सिन्हा से सीखना चाहिए. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश जी ने कहा था कि हम संघमुक्त भारत बनाएंगे. लेकिन सच्चाई ये है कि वो आज मोहन भागवत को साथ लेकर घूम रहे हैं. तेजस्वी ने कहा कि नागपुर में जिन्होंने कभी झंडा नहीं फहराया वो आज देशभक्ति का सर्टिफिकेट बांट रहे हैं. उन्होंने कहा कि गिरिराज सिंह गौ सेवा की बात करते हैं लेकिन वो ये बताएं कि क्या उन्हें गाय का दूध निकालना आता है. गिरिराज सिंह हमसे सीखें कि कैसे दूध निकाला जाता है. तेजस्वी ने कहा कि आज देश की हालत कैसी है, ये सभी के सामने है. हालत ये है कि देश के लोग अपना ही पैसा निकाल नहीं सकते. तेजस्वी ने कहा कि देश से दो-दो मोदी पहले ही भाग गए हैं, एक सुशील मोदी बचे हैं. ऐसे में इनका पासपोर्ट जब्त करने की जरूरत है, वरना ये भी भागेंगे. उन्होंने कहा कि लोग कहते हैं कि मोदी खतरनाक है, योगी और गिरिराज खतरनाक हैं. लेकिन मैं कहता हूं कि नीतीश से ज्यादा खतरनाक कोई नहीं है.

 यशवंत सिन्हा के बीजेपी छोड़ने को लेकर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा है कि उनके इस निर्णय ने आज बड़ी सीख दी है. तेजस्वी ने पटना में कहा कि यशवंत सिन्हा को लोग जेपी की भूमिका ...

Read More »

यूपी में सपा -बसपा ने कांग्रेस से किया किनारा

लखनऊ : कहा जाता है कि राजनीति में कोई किसी का सगा नहीं होता. जो आज आपके साथ है , वह कल दूसरे के साथ खड़ा दिखाई दे सकता है. ऐसा ही नज़ारा इन दिनों यूपी में दिखाई दे रहा है .पिछले यूपी विधान सभा चुनाव में कांग्रेस के राहुल गाँधी को अपनी साइकल पर बैठाकर मिलकर चुनाव लड़ने वाले अखिलेश यादव ने आगामी लोकसभा के लिए इस बार कांग्रेस से किनारा कर बसपा से हाथ मिला लिया है. बता दें कि पिछले दिनों हुए गोरखपुर और फूलपुर लोक सभा उप चुनाव में कांग्रेस की भूमिका की आलोचना करते हुए अखिलेश यादव ने कई बार कहा कि कांग्रेस ने फूलपुर और गोरखपुर सीटों के उप-चुनाव लड़कर खुद ही अपनी नाव डुबोई है.एक प्रमुख कांग्रेसी नेता से मिलने कि दौरान पूर्व मुख्यमंत्री यादव ने उनको स्पष्ट किया कि कांग्रेस सपा, बसपा उम्मीदवारों के लिए अपने मतों को स्थानांतरित करने में असफल रही है.इसलिए अच्छा होगा कि कांग्रेस उत्तर प्रदेश में अपने बल पर लोकसभा चुनाव लड़े. उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के प्रति अपने नजरिए को बदलते हुए सपा और बसपा ने कांग्रेस के प्रति सद्भावना के नाम पर एहसान दिखाते हुए इतना किया है कि उन्होंने अमेठी और रायबरेली की सीटों को कांग्रेस के लिए छोड़ दिया है.अखिलेश यादव ने कांग्रेस नेता को स्पष्ट कह दिया है कि कांग्रेस को खुश करके वह मायावती को नाराज नहीं करेंगे .जाहिर है यूपी में अगला लोक सभा चुनाव कांग्रेस को अकेले ही लड़ना है.

 कहा जाता है कि राजनीति में कोई किसी का सगा नहीं होता. जो आज आपके साथ है , वह कल दूसरे के साथ खड़ा दिखाई दे सकता है. ऐसा ही नज़ारा इन दिनों यूपी में दिखाई दे रहा है .पिछले ...

Read More »

इतने बड़े देश में एक-दो बलात्कार आम बात है : बीजेपी मंत्री

केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने देश में हो रही बलात्कार की घटनाओं पर बड़ा बयान दिया है, गंगवार ने अपने बयान में कहा कि इतने बड़े देश में बलात्कार की एक-दो घटनाएं होती रहती है, इसलिए जरुरी नहीं कि इन बातों का मुद्दा बनाया जाए. मंत्री का बयान ऐसे समय में आया जब देश में उन्नाव और कठुआ जैसे बलात्कार मामलों में पुरे देश में प्रदर्शन हो रहे है. गंगवार को शायद देश के मौजूदा हालातों के बारे में ठीक से जानकारी नहीं वरना एक संवैधानिक पद पर बैठे एक मंत्री को इस तरह का बयान देश की मौजूदा राजनीतिक हालातों को दर्शाता है. नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों के मुताबिक साल 2016 में 38,947 बलात्कार की घटनाएं हुई हैं. इसका मतलब हुआ कि देश में हर रोज 107 बलात्कार की घटनाए होती हैं. यानी हर घंटे चार महिलाओं के साथ बलात्कार होता है. वहीं, उम्र के हिसाब से साल 2016 में 12 साल से छोटी 2116 बच्चियों को वहशियों ने अपना शिकार बनाया है. यानी औसतन पांच से ज्यादा बच्चियां किसी बलात्कार का शिकार हुईं. हालाँकि सरकार ने इन मामलों में फुर्ती दिखते हुए पास्को एक्ट लागू किया है, लेकिन ये एक्ट देश में हो रहे है सभी बलात्कार के लिए बेटियों के लिए न्याय की ग्यारंटी नहीं देता.

 केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने देश में हो रही बलात्कार की घटनाओं पर बड़ा बयान दिया है, गंगवार ने अपने बयान में कहा कि इतने बड़े देश में बलात्कार की एक-दो घटनाएं होती रहती है, इसलिए जरुरी नहीं कि ...

Read More »

कर्नाटक विधानसभा चुनाव : भाजपा ने जारी की तीसरी सूची

आगामी कर्नाटक चुनाव को ध्यान में रखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी कर दी है. इससे पहले बीजेपी ने उम्मीदवारों की दो सूची जारी की थी. पूर्व में जारी दो सूची में भाजपा ने कुल 154 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की थी. वहीं भाजपा ने आज तीसरी सूची जारी की है. 224 सीटों पर होने वाले विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए भाजपा ने आज 59 उम्मीदवारों की नई सूची जारी कर दी है. अब इस तरह भाजपा ने कुल 224 सीटों में से 213 उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी हैं. अभी 11 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा करना शेष हैं. भाजपा से पहले कांग्रेस ने 224 सीटों में से कुल 218 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी हैं. आपको बता दे कि भाजपा ने पूर्व में घोषित एक सीट (कोलार गोल्ड सीट) से अपना उम्मीदवार भी बदल दिया है. यह कदम पार्टी ने भ्रष्टाचार के मामले में रंगे हाथों पकड़े जाने के बाद उठाया हैं. भाजपा ने वाई समपांगी से टिकट वापस ले लिया है और उनके स्थान पर उनकी बेटी एस अश्विनी को टिकट दिया गया है. अब उनकी बेटी इस सीट से चुनाव लड़ेगी. गौरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव आगामी 12 मई को होने है. साथ ही इसके बाद 15 मई को चुनाव के नतीजे भी जारी कर दिए जाएंगे. जहां इस बार चुनाव जीतकर भाजपा कांग्रेस से सत्ता छीनकर अपनी सरकार बनाना चाहेगी वहीं सत्ताधारी कांग्रेस भाजपा को सत्ता में आने का एक भी मौका नही देना चाहेगी.

आगामी कर्नाटक चुनाव को ध्यान में रखते हुए भारतीय जनता पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी कर दी है. इससे पहले बीजेपी ने उम्मीदवारों की दो सूची जारी की थी. पूर्व में जारी दो सूची में भाजपा ने ...

Read More »

महाभियोग से जजों को डरा रहा विपक्ष: जेटली

नई दिल्ली. शीर्ष अदालत के प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लाने के प्रस्ताव को लेकर पक्ष और विपक्ष दोनों दलों में तीखी बयानबाजी का सिलसिला जारी है. जहां इस मामले में कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दल मोदी सरकार को घेरने में जुटे हुए है तो वहीं भाजपा ने भी कांग्रेस पर संविधान के उल्लंघन का आरोप लगाया है. इस मामले में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को कहा, विपक्ष महाभियोग को हथियार बनाकर जजों को डराने की कोशिश कर रही है. जेटली ने इस महाभियोग को बदले की याचिका करार दिया है. जेटली ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि, 'इस पूरे मामले को हल्के में लेना खतरनाक हो सकता है. यह प्रकरण पूरी न्यायपालिका की आजादी के लिए खतरा है.' जज लोया की मौत पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे में बात करते हुए जेटली ने अपने पोस्ट में लिखा कि, उन्होंने 114 पेज के इस फैसले को पढ़ा, जिसे जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने लिखा है. वित्त मंत्री ने अपने इस पोस्ट में सोहराबुद्दीन के एनकाउंटर से लेकर अमित शाह और जज लोया की मौत का विस्तार से जिक्र किया है. जेटली ने कहा कि यह पूरा मामला इस सरकार और बीजेपी अध्यक्ष की छवि को धूमिल करने के लिए उठाया गया है.

 शीर्ष अदालत के प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लाने के प्रस्ताव को लेकर पक्ष और विपक्ष दोनों दलों में तीखी बयानबाजी का सिलसिला जारी है. जहां इस मामले में कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दल मोदी सरकार को घेरने ...

Read More »

बीजेपी ने दागी रेड्डी बंधुओं को टिकट दिया

शुक्रवार को 59 उम्मीदवारों की अपनी तीसरी लिस्ट जारी करने के साथ ही बीजेपी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए दागी खनन उद्योगपति रेड्डी बंधुओं में से एक करुणाकर रेड्डी को चुनावी टिकट दे दिया है, इसके आलावा सोमशेखर रेड्डी जो इनका ही भाई को भी बेल्लारी से टिकट दिया है. गौरतलब है कि रेड्डी बंधुओं पर अवैध खनन के आरोप लग चुके हैं. इसी के साथ अब बीजेपी के 59 और उम्मीदवारों की घोषणा के बाद 224 सदस्यीय विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी अब तक 213 उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है. बीजेपी ने सीएम सिद्धारमैया के खिलाफ गोपाल राव को चामुंडेश्वरी से चुनावी मैदान में उतारा है. बीजेपी ने सिद्धारमैया की वर्तमान निर्वाचन सीट वरुणा से कोई उम्मीदवार नहीं उतारा है, वही कांग्रेस कि ओर से यहाँ सिद्धारमैया के बेटे मैदान में है. बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बी एस येदियुरप्पा के बेटे बी वाई विजयेंद्र को वरुणा के संभावित उम्मीदवार होने कि अटकले लगाई जा रही है. राज्य विधानसभा के लिए 12 मई को चुनाव होगा और 15 मई को मतगणना होगी. कांग्रेस और बीजेपी दोनों सूबे में चुनाव प्रचार में अपना पूरा जो लगा रही है और लम्बे समय से सूबे में राजनेता के काफिले चक्कर काट रहे है.

शुक्रवार को 59 उम्मीदवारों की अपनी तीसरी लिस्ट जारी करने के साथ ही बीजेपी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए दागी खनन उद्योगपति रेड्डी बंधुओं में से एक करुणाकर रेड्डी को चुनावी टिकट दे दिया है, इसके आलावा  सोमशेखर रेड्डी ...

Read More »

अमित शाह आज कांग्रेस के गढ़ रायबरेली में

रायबरेली: कांग्रेस मुक्त भारत के नारे को बुलंद करते हुआ बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में बीजेपी की 2019 की तैयारियों को लेकर पहुंच रहे है. एक दिवसीय यात्रा के दौरान कांग्रेस की भितरघात का फायदा उठाते हुए कांग्रेस एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह को बीजेपी में शामिल करेंगे. हल ही में सोनिया और राहुल ने यहाँ का दौरा किया था जिसके तुरंत बाद हवा का रुख देखने के लिए अमित शाह का रायबरेली आगमन हो रहा है. उनके साथ स्टार प्रचारक की भूमिका में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ भी होंगे ओर एक जनसभा को संबोधित करेंगे. वही बागी एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने बीजेपी की सभा में एक लाख लोगों की भीड़ जुटाने का दवा किया है ताकि वे बीजेपी ओर कांग्रेस दोनों को अपनी ताकत दिखा सके. गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने कांग्रेस और प्रियंका गांधी पर जमकर हमला किया. उन्होंने प्रियंका पर एमएलए के टिकट के लिए इस्तीफा लिखवाने का आरोप लगाया. दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि भाई राकेश के लिए हरचंदपुर से एमएलए का टिकट मांगने गया था तो प्रियंका गांधी ने उनसे एमएलसी पद का इस्तीफा लिखवा लिया था. बड़े भाई पर जिस व्यक्ति ने रेप का फर्जी आरोप लगाकर केस दर्ज करवाया उसे उन्हीं के गांव का ग्राम अध्यक्ष बना दिया. उन्होंने कहा लोभ, मोह, लालच नहीं, बल्कि स्वाभिमान के लिए कांग्रेस छोड़ रहा हूं.

 कांग्रेस मुक्त भारत के नारे को बुलंद करते हुआ बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में बीजेपी की 2019 की तैयारियों को लेकर पहुंच रहे है. एक दिवसीय यात्रा के दौरान कांग्रेस ...

Read More »

लड़की नहीं बचेगी तो ब्याह किससे करोगे- नीतीश कुमार

दरभंगा: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उज्जवला योजना के दूसरे चरण की शुरूआत में अपने संबोधन के दौरान अचानक से ही गुस्से में आ गए और लोगों पर भड़क गए. दरअसल नीतीश कुमार बिहार में हुए विकास और सात निश्चय योजना के बारे में लोगों को अवगत करवा रहे थे मगर ये बात सभा में मौजूद कुछ लोगों के गले नहीं उतर रही थी नतीजतन उन्होंने हाथ हिलाकर जोर-जोर से हल्ला कर नीतीश का विरोध शुरू कर दिया जिसके बाद नीतीश कुमार ने भाषण के बीच में उन लोगों को समझाने का भी प्रयास किया लेकिन हल्ला करनेवाले लोग नीतीश के बात से सहमत नहीं हुए. फिर नीतीश कुमार ने विरोध करने वाले युवक से कहा कि अगर तुम्हारे इलाके में कोई समस्या है तो हमारे पास आओ हम तुम्हारी समस्या सुनकर पटना लौटेंगे. इसके बाद पुलिस भी हरकत में आई और तुरंत ही लड़के को अपने पास ले गई. इसके बात नीतीश कुमार एक बार फिर अपना भाषण शुरू किया और नारी शक्ति और लड़कियों को आगे बढ़ाने के लिए प्रोत्साहन करनेवाली अपनी योजना के बारे में लोगों को बताना शुरू किया. एक बार फिर लोग हो हल्ला करने लगे. इस पर नीतीश कुमार ने कहा कि ज्यादा चें-चें मत करो, जो कहते हैं सुनो. साथ ही हल्ला करने वाले लोगों को नीतीश ने कहा अगर लड़की नहीं बचेगी तो ब्याह किससे करोगे ? लड़की नहीं होगी तो शादी भी तुम्हारी नहीं होगी और इसलिए बेटी को बचाना है. नीतीश कुमार ने बाद में उस लड़के से मुलाकात की और उसकी समस्या जान दरभंगा से पटना के लिए रवाना हुए.

 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उज्जवला योजना के दूसरे चरण की शुरूआत में अपने संबोधन के दौरान अचानक से ही गुस्से में आ गए और लोगों पर भड़क गए. दरअसल नीतीश कुमार बिहार में हुए विकास और सात निश्चय योजना के बारे ...

Read More »

कर्नाटक में कांग्रेस ने खड़ी कि करोड़पतियों की फौज

12 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कर्नाटक में कांग्रेस की ओर से करोड़पति उम्मीदवारों की फौज खड़ी कर दी गई है और जानकारी के अनुसार कांग्रेस के द्वारा जारी 218 उम्मीदवारों की सूची में से 91 फीसदी प्रत्याशी करोड़पति है. जानिए और भी इन कर्नाटक चुनाव के बारे में - -कांग्रेस के 32 फीसदी उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं. -वहीं भारतीय जनता पार्टी में 27 फीसदी उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. -कर्नाटक में किंग मेकर का तमगा हासिल कर चुकी जनता दल (सेकुलर) (जेडीएस) में ये आंकड़ा 29 फीसदी है. -बीजेपी ने 111 चेहरों पर और जेडीएस ने 58 चेहरों पर दोबारा दांव लगाया है, इन्हे पार्टी ने दोबारा टिकट दिया है. -शोध संस्थान एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म (एडीआर) के विश्लेषण के अनुसार कांग्रेस से दोबारा चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 28 करोड़ रुपये है -जबकि बीजेपी की तरफ से दोबारा चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 8 करोड़ रुपये -जेडीएस के उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 14 करोड़ रुपये है. -बीजेपी के 97 उम्मीदवार करोड़पति हैं. -जेडीएस ने 46 करोड़पति उम्मीदवारों को टिकट दिया है. -कांग्रेस की तरफ से दोबारा चुनाव लड़ रहे 148 उम्मीदवारों में से 48 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ दर्ज आपराधिक मामलों की घोषणा की है. -भाजपा ने 111 लोगों को दोबारा टिकट दिया है. जिसमें से 30 उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले लंबित हैं. -जेडीएस की तरफ से दोबारा लड़ रहे 58 उम्मीदवारों में से 17 के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. -कांग्रेस और जेडीएस, दोनों पार्टियों के 16 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले हैं -बीजेपी के 17 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर मामले दर्ज हैं. -ये जानकारी एडीआर और कर्नाटक इलेक्शन वॉच ने इन उम्मीदवारों के नामांकन से प्राप्त जानकारी के आधार पर दी है.

12 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कर्नाटक में कांग्रेस की ओर से करोड़पति उम्मीदवारों की फौज खड़ी कर दी गई है और जानकारी के अनुसार कांग्रेस के द्वारा जारी 218 उम्मीदवारों की सूची में से 91 फीसदी ...

Read More »