Breaking News

राजनीति

कांग्रेस को श्मसान जाने के लिए चार लोग भी नहीं मिलेंगे- केंद्रीय राज्यमंत्री

केंद्रीय राज्यमंत्री अश्वनी चौबे ने मंगलवार को वाराणसी में बोलते हुए राहुल गांधी की तीखी आलोचना की. उन्होंने ने राहुल गांधी को नसीहत देते हुए कहा कि वे शेर प्रधानमंत्री के सामने सवा शेर बनने की इच्छा न रखें. अश्वनी चौबे ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने गरीबी देखी है, राहुल गांधी ने नहीं देखी. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का भाषण तथ्यहीन होता है. संसद में न बोलने देने के आरोप पर केंद्रीय राज्यमंत्री ने कहा, 'लोकसभा में राहुल गांधी गूंगे की तरह बैठे रहते हैं. पार्लियामेंट को चलने नहीं दिया. कांग्रेस की क्या भूमिका रही, सबने देखा है.' दलित के यहां खाने पर कहा कि कांग्रेस की तरह यह शौक नहीं होना चाहिए. उन्होंने कांग्रेस की मौजूदा स्थिति को लेकर भी तंज कसा और कहा कि कांग्रेस को श्मसान जाने के लिए चार लोग भी नहीं मिलेंगे. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री दलितों के नाम पर उन्हें बरगलाते नहीं हैं. पीएम के दिल में दलित बंधुओं के लिए स्थान है. उन्होंने कांग्रेस के दलित प्रेम को लेकर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने आंबेडकर जी को पहली बार लोकसभा तक भी नहीं जाने दिया. कांग्रेस ने आंबेडकर और दलित समाज को बहुत यातनाएं दी हैं. इतना ही नहीं, दलित नेता जगजीवन बाबू तक को कांग्रेस ने बढ़ने नहीं दिया. उन्होंने कहा कि अब वे (राहुल) शेर प्रधानमंत्री के सामने सवा शेर बनने की इच्छा रख रहे हैं. राहुल सिर्फ वंशवाद को बढ़ाने की राजनीति कर रहे हैं. वे संविधान की बात न करें. कांग्रेस देश को गुमराह करने की कोशिश कर रही है. लेकिन उनके गुमराह करने के झांसे में जनता नहीं आने वाली. 2019 में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दो तिहाई बहुमत की सरकार बनने जा रही है.

केंद्रीय राज्यमंत्री अश्वनी चौबे ने मंगलवार को वाराणसी में बोलते हुए राहुल गांधी की तीखी आलोचना की. उन्होंने ने राहुल गांधी को नसीहत देते हुए कहा कि वे शेर प्रधानमंत्री के सामने सवा शेर बनने की इच्छा न रखें. अश्वनी ...

Read More »

खाना खाकर बीजेपी ने फिर खेला दलित कार्ड

लखनऊ :उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दलितों के घर में खाना खा रहे है जो 2019 लोकसभा के चुनाव की तैयारी है. दो उप-चुनाव में मिली हार के बाद योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में यह ऐलान किया था कि सरकार जल्द ही पिछड़ी जातियों और दलितों में आरक्षण के भीतर आरक्षण का प्रावधान कर सकती है. योगी सरकार में मंत्री ओमप्रकाश राजभर के मुताबिक इस बारे में सरकार चुनाव के 6 महीने पहले आखिरी फैसला ले सकती है और इस बात की चर्चा उन्होंने मुख्यमंत्री और अमित शाह दोनों से खुद की है. ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि आरक्षण के भीतर आरक्षण लागू करने के लिए योगी सरकार राजनाथ सिंह के द्वारा जून 2001 में बनाए गए सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट को आधार बना सकती है, जिसमें सरकार पिछड़ी जातियों में 'ए' 'बी' और 'सी' तीन सब- कैटेगरी बना सकती है. सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट के मुताबिक पिछड़ों को मिलने वाले 27 फीसदी आरक्षण में करीब 2.3 फीसदी जातियां ही पिछड़ी जातियों का पूरा आरक्षण निगल जाती हैं. ऐसे में पिछड़ा, अति पिछड़ा और अत्यंत पिछड़ा तीन कैटेगरी में आरक्षण को विभाजित किया जाए. 'ए' कैटेगरी में यादव और अहिर सरीखी संपन्न जातियां होंगी जबकि 'बी' कैटेगरी अति पिछड़ी होगी जिसमें कुशवाहा, मौर्य, शाक्य, सैनी जैसी दूसरी जातियां होंगी जबकि अत्यंत पिछड़ी जातियों में मल्लाह, निषाद, बढ़ई, लोहार जैसी जातियां होंगी.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दलितों के घर में खाना खा रहे है जो 2019 लोकसभा के चुनाव की तैयारी है. दो उप-चुनाव में मिली हार के बाद योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में यह ऐलान किया था कि सरकार ...

Read More »

ममता बनर्जी शूर्पणखा, नाक काटेंगे मोदी- भाजपा विधायक

नई दिल्ली: उत्‍तर प्रदेश की बैरिया विधानसभा से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ एक बार फिर से उलजुलूल बयान देकर विवाद को जन्म दे दिया है. उन्होंने ममता को शूर्पणखा बताया है. सुरेंद्र सिंह ने ममता पर आरोप लगते हुए कहा है कि पश्चिम बंगाल विभिन्न प्रकार की समस्याओं से जूझ रहा है और मुख्यमंत्री ममता का ध्यान सिर्फ राजनीति पर है, उनको राज्य की जनता की जरा भी फ़िक्र नहीं है. उन्होंने कहा कि बंगाल में सड़कों पर लोग एक-दूसरे को मार रहे हैं, वहां हिन्दू सुरक्षित नहीं हैं, अगर ऐसे ही हालात रहे तो बंगाल को जम्मू-कश्मीर बनने में देर नहीं लगेगी. सुरेंद्र सिंह ने अपने भाषण में कहा कि शूर्पणखा रूपी ममता को सबक सीखने के लिए लक्ष्मण भी मैदान में आ चुका है, नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी शूर्पणखा की नाक काटेगी. जबकि उन्होंने कांग्रेस को शूर्पणखा के भाई रावण की संज्ञा दी . उन्होंने कहा कि बांग्लादेश के एंटी-नेशनल और आतंकी बंगाल में घुस गए हैं. वो हिंदुओं को प्रताड़ित कर रहे हैं, लेकिन भगवान की कृपा है मोदी जैसे नेता भारत में पैदा हुए हैं. गौरतलब है कि सुरेंद्र सिंह ने पहली बार कोई इस तरह का बयान नहीं दिया है. इससे पहले भी वो विवादित बयान दे चुके हैं. हाल ही में उन्होंने कहा था कि 2019 का लोकसभा चुनाव भगवान बनाम इस्लाम होगा.

 उत्‍तर प्रदेश की बैरिया विधानसभा से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ एक बार फिर से उलजुलूल बयान देकर विवाद को जन्म दे दिया है. उन्होंने ममता को शूर्पणखा बताया है. सुरेंद्र सिंह ...

Read More »

राहुल गांधी के हाथ में सत्ता आते ही देश को झेलने पड़ेंगे ये बड़े नुकसान…

आगामी 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर इस समाय देश की हर राजनीतिक पार्टी काफी सजग है. लेकिन देश की दो दिग्गज राजनीतिक पार्टी सत्ता दल भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी पार्टी कांग्रेस इस समय जमकर जोर आजमाइश कर रही है. दोनों पार्टी इस समय मई में होने वाले कर्नाटक विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखे हुए है, लेकिन वे इसके साथ-साथ 2019 लोकसभा चुनाव पर भी अपनी पैनी नजरें बनाए हुए हैं. जहां 2019 का चुनाव भारतीय जनता पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी. वहीं कांग्रेस अपनी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी के नेतृत्व में लड़ेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां 2019 का चुनाव जीतकर एक बार फिर देश की सत्ता संभालना चाहेंगे वहीं राहुल गाँधी पहली बार देश की बागडोर संभालना चाहेंगे. लेकिन अगर ऐसा होता है कि राहुल गांधी 2019 में प्रधानमंत्री बन जाते हैं, और मोदी सत्ता से दूर रह जाते हैं. तो इस स्थिति में देश को कई बड़े नुकसान झेलने पड़ सकते हैं. आइये जानते हैं अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2019 में सत्ता में नहीं रहते हैं, तो भारत को किन 4 बड़े नुकसानों का सामना करना पड़ सकता हैं... 1... 2019 में अगर राहुल गांधी पीएम बनते है और पीएम मोदी लोकसभा का चुनाव हार जाते है तो सबसे बड़ा नुकसान भारत की ग्रोथ में होगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, अभी तक देश में विदेशी निवेशकों ने पैसा नहीं लगाया है. इससे राष्ट्रीय मुद्रा 'रूपया' के कमजोर होने के आसार है. 2... राष्ट्रीय मुद्रा 'रूपया' के कमजोर होने पर इसका सीधा प्रभाव कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के रूप में देखने को मिलेगा. ऐसा होने पर पेट्रोल-डीजल के दाम तेजी से बढ़ जाएंगे. 3... 2019 में बाजार में भी जोख़िम देखने को मिल सकती है. क्योंकि 2019 में म्यूचुअल फंड में निवेश में तेज गिरावट आने के कारण ऐसा हो सकता है. फिलहाल निवेश में कमी तो देखी गई हैं, लेकिन निवेश की स्तर में कोई गिरावट देखने को नहीं मिली. 4... वर्तमान समय में कॉरपोरेट प्रॉफिट काफी कम है, और अगर 2019 में पीएम मोदी दोबारा पीएम नहीं बने तो इसमें और कमी देखने को मिलेगी. साथ ही इसी वजह से अभी तक कंपनियां कोई नया निवेश करने पर विचार नहीं कर रही हैं.

आगामी 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर इस समाय देश की हर राजनीतिक पार्टी काफी सजग है. लेकिन देश की दो दिग्गज राजनीतिक पार्टी सत्ता दल भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी पार्टी कांग्रेस इस समय जमकर जोर आजमाइश कर रही है. ...

Read More »

संविधान बचाओ नहीं राहुल बचाओ अभियान है – संबित पात्रा

नई दिल्ली: बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो व्यक्ति खुद 15 पंक्ति नहीं लिख सकता वो आज कह रहा है कि 15 मिनट बोलने नहीं दिया जा रहा है. जो व्यक्ति बिना मोबाइल में देखे एक मिनट नहीं बोल सकता वह 15 मिनट क्या बोलेंगे. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी एक असफल नेता हैं, इसलिए वे इस प्रकार के मुद्दे उठा रहे हैं. ये संविधान बचाओ नहीं राहुल बचाओ अभियान है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी का ये गुस्सा इसलिए था क्योंकि कहीं न कहीं आज परिवारवाद मात खा रहा है और साधारण जनता सत्ता तक पहुंच रही है. गौरतलब है कि इससे पहले राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और संघ परिवार पर पर तीखा हमला करते हुए आज कहा कि मोदी ने देश के संविधान और संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर करके तथा देश को जाति धर्म के नाम पर बांटने की कोशिश करके भारत की धर्मनिरपेक्ष एवं सहिष्णु छवि को विदेशों में जबर्दस्त चोट पहुंचायी है और कांग्रेस की विचारधारा में ही यह ताकत है कि वह संविधान ,संवैधानिक संस्थाओं ,दलितों ,अल्प सख्यकों, महिलाओं समेत समाज के हर तबके की रक्षा कर सकती है. गांधी ने कांग्रेस के दिग्गज नेताओं की मौजूदगी में यहां तालकटोरा स्टेडियम में एक वर्ष तक चलने वाले देशव्यापी‘संविधान बचाओ अभियान’की शुरूआत करते हुए अपने संबोधन में कहा कि कांग्रेस ने 70 वर्ष के शासन में देश को संविधान दिया और चुनाव आयोग,लोकसभा,राज्यसभा,विधानसभाएं तथा आईआईटी और आईआईएम जैसी संस्थाएं दीं और सबका सम्मान एवं रक्षा की लेकिन आज हर संस्था में आरएसएस की विचारधारा के लोगों को भरा जा जा रहा है.

 बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो व्यक्ति खुद 15 पंक्ति नहीं लिख सकता वो आज कह रहा है कि 15 मिनट बोलने नहीं दिया जा ...

Read More »

मेरे दामन पर भी है मुसलामानों के खून के दाग- सलमान खुर्शीद

अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में रविवार को आयोजित हुए वार्षिकोत्सव में पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई. एएमयू के डॉ. बीआर आंबेडकर हॉल में उन्होंने छात्रों को खुलकर बात करने के लिए कहा. एएमयू के छात्रों ने भी खुर्शीद से जमकर सवाल जवाब किये. सलमान खुर्शीद ने छात्रों को सम्बोधित करते हुए ट्रिपल तलाक और अलीगढ़ से अपने पुराने रिश्ते का भी जिक्र किया है. उन्होंने कहा कि, 'इसी यूनिवर्सिटी के वीसी लॉज में पैदाइश हुई थी लेकिन मुझे इस बात का अफसोस है कि मेरी तरबियत यहां से नहीं हुई। एएमयू के छात्रों ने उनका भाषण खत्म होते ही सवालों की झड़ी लगा दी.' इस मौके पर एएमयू के निलंबित छात्र आमिर मिंटोई ने 1947 में देश की आजादी के बाद ही 1948 में एएमयू एक्ट में पहेल संशोधन, 1950 प्रेसिडेंशल ऑर्डर जिस में मुस्लिम दलितों से एसटी/एससी आरक्षण का हक छीना जाना. इसके बाद हाशिमपुरा, मलियाना, मेरठ, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, भागलपुर, अलीगढ़ आदि में मुसलमानों के नरसंहार, उसके अलावा बाबरी मस्जिद के दरवाजे खुलना, और फिर बाबरी मस्जिद की शहादत कांग्रेस की नरसिम्हा राव सरकार में होने जैसी घटनाओं का हवाला देते हुए खुर्शीद से पूछा कि कांग्रेस के दामन पर मुसलमानों के खून के जो इतने सारे धब्बे हैं, इनको आप किन अल्फाजों से धोना चाहेंगे? इस सवाल के जवाब में सलमान खुर्शीद ने कहा कि 'कांग्रेस का नेता होने के नाते मुसलमानों के खून के यह धब्बे मेरे अपने दामन पर हैं.'

अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में रविवार को आयोजित हुए वार्षिकोत्सव में पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई. एएमयू के डॉ. बीआर आंबेडकर हॉल में उन्होंने छात्रों को खुलकर बात करने के लिए कहा. एएमयू के छात्रों ने ...

Read More »

हिमाचल सीएम जयराम ने की पीएम मोदी से मुलाकात…

आज राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री हिमाचल ठाकुर ने मुलाक़ात की. इस अवसर पर दोनों ही राजनेताओं ने कई मुद्दों पर बातें की. हिमाचल के सीएम ने प्रधानमंत्री मोदी से राज्य में रेल नैटवर्क बढ़ाने तथा रोहतांग सुरंग के काम में तेजी लाने का आग्रह किया. साथ ही मुख्यमंत्री ने हिमाचल में पर्यटन को बढ़ावा देने और यहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हवाई अड्डे के निर्माण कार्य के बारे में भी बात की. प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आज मुलाकात के दौरान जयराम ठाकुर ने अपनी सरकर के 100 दिन के कार्य का ब्यौरा भी सौंपा. इस दौरान जयराम ठाकुर ने 100 दिन का रिपोर्ट कार्ड प्रधानमंत्री को दिया. बता दे कि साल की शुरुआत में ही जयराम ठाकुर ने हिमाचल की सत्ता संभाली थी. इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि 100 दिन सुशासन व सर्वांगीण विकास की दिशा में नई सोच और नई पहल के साक्षी हैं और राज्य के विकास व लोगों के जीवन में सुधार लाने की दिशा में सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने इस दौरान सीएम जयराम से हिमाचल को देश का रोल मॉडल बनाने की भी बात कही. इसके लिए उन्होंने राज्य के कुछ क्षेत्रों को चिन्हित करने के लिए कहा हैं.

आज राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री हिमाचल ठाकुर ने मुलाक़ात की. इस अवसर पर दोनों ही राजनेताओं ने कई मुद्दों पर बातें की. हिमाचल के सीएम ने प्रधानमंत्री मोदी से राज्य में रेल नैटवर्क ...

Read More »

मोदी की अग्निपरीक्षा, सिद्धारमैया की कसौटी पर

बेंगलुरु: कर्नाटक का घमासान मोदी बनाम सिद्धारमैया की टक्कर का चोला पहन रहा है. बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि आंतरिक सर्वे में पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है. इसलिए बीजेपी मुसीबत से बाहर निकलने के लिए मोदी की रैलियों का सहारा लेगी. नेता ने बताया, '29 अप्रैल से मोदी 5 बार कर्नाटक आएंगे और 15 से 17 रैलियों को संबोधित करेंगे. इस रणनीति ने हमारे लिए गुजरात में काम किया था. हमने उनकी (मोदी) वजह से ही हर जगह सरकार बनाई है.' बीजेपी प्रमुख अमित शाह ने प्रदेश में एक मजबूत जमीनी रणनीति बनाई थी, लेकिन उसे जेडीएस और कांग्रेस के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया की 'अप्रोचेबल' और 'प्रो-पुअर' इमेज की वजह से मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है. विश्लेषक हरीश रामास्वामी बंबई-कर्नाटक (उत्तर-पश्चिमी) क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं, जहां पर बीजेपी को ज्यादा फायदा मिलने की उम्मीद है. उनका कहना है कि मोदी की रैलियों से बड़ा फर्क पड़ सकता है, बशर्ते वह कांग्रेस के 'लिंगायत' समुदाय को अल्पसंख्यक धर्म का दर्जा देने के मुद्दे पर अपना कार्ड खेल दें. कांग्रेस की रणनीति मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और एआईसीसी के महासचिव के सी वेणुगोपाल और उनकी टीम के नेतृत्व में बनाई जा रही है. उनका मानना है कि वे मोदी-शाह की जोड़ी को सत्ता हासिल करने से रोक सकते हैं. वही सिद्धारमैया की ताकत का कर्नाटक में अपना बोल बाला है.

 कर्नाटक का घमासान मोदी बनाम सिद्धारमैया की टक्कर का चोला पहन रहा है. बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि आंतरिक सर्वे में पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है. इसलिए बीजेपी मुसीबत से बाहर निकलने के ...

Read More »

म.प्र.चुनाव: क्या कमलनाथ उतरेंगे शिवराज के खिलाफ ?

2019 लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस एकदम तैयार नज़र आ रही है, एक तरफ तो कांग्रेस अध्यक्ष देश भर के दलित नेताओं को लेकर संविधान बचाओ अभीयान चला रही है, वहीं मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ कांग्रेसी ...

Read More »

सरकार ने गैरजरूरी मुद्दों को मुद्दा बनाया- शत्रुघ्न सिन्हा

शत्रुघ्न ने कहा कि कठुआ गैंगरेप मामले को लेकर पूरी दुनिया हमारी भर्त्सना कर रही है और देश का नाम खराब हुआ है. ऐसा साफ दिख रहा है कि दोषियों को बचाने में बीजेपी के कुछ लोग लगे हैं. सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” का नारा देते हैं, लेकिन देश में बेटियों को बचाने के लिए क्या कर रहे हैं, यह कोई नहीं जानता. 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' केवल नारा बनकर रह गया है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि मेरे जैसे लोग सरकार को आईना दिखाने की कोशिश करते हैं तो हमें देशद्रोही करार दे दिया जाता है. मेरी पार्टी मुझे अछूत महसूस करवाती है. उन्होंने कहा कि मैं पार्टी के साथ तब से हूं जब हमारे केवल दो सांसद हुआ करते थे और आज तक पार्टी में मेरे खिलाफ जोर-जबर्दस्ती की जाती है, मगर मैं फिर भी संघर्ष कर रहा हूं. सिन्हा ने कहा कि जब तक पार्टी में हूं, पार्टी की मान मर्यादा का पालन करूंगा और अनुशासित रहूंगा. उन्होंने कहा कि बीजेपी अगर मुझे पार्टी से निकालती है तो उन्हें न्यूटन का तीसरा नियम याद रखना चाहिए कि प्रत्येक क्रिया के समान एवं विपरीत प्रतिक्रिया होती है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि बीजेपी मुझे पार्टी से नहीं निकालेगी तो मैं खुद पार्टी नहीं छोड़ूंगा. मुझे नहीं लगता है कि मैंने ऐसा कोई काम किया है कि मुझे पार्टी से निकाला जाए. गौरतलब है कि वरिष्ठ बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा ने कल ही बीजेपी ने तमाम रिश्तें तोड़ने का एलान करते हुए सियासत से सन्यास लेने का फैसला लिया था.

शत्रुघ्न ने कहा कि कठुआ गैंगरेप मामले को लेकर पूरी दुनिया हमारी भर्त्सना कर रही है और देश का नाम खराब हुआ है. ऐसा साफ दिख रहा है कि दोषियों को बचाने में बीजेपी के कुछ लोग लगे हैं. सिन्हा ...

Read More »