Breaking News

125 शहनाई के सूरों के साथ 238 बेटियां बंधी परिणय सूत्र में

01_1482735735सूरत। पी.पी. सवाणी ग्रुप द्वारा आयोजित सामूहिक विवाह में सवाणी चैतन्य विद्या संकुल ग्राउंड अब्रा में 238 बेटियों की शादी हुई। इसमें 236 ऐसी बेटियां हैं, जिनके पिता का अवसान हो चुका है। इसमें उड़ी हमले में शहीदों की बेटियां भी शामिल हैं। सभी बेटियों के लिए दहेज की व्यवस्था सवाणी ग्रुप ने ही की है। हेलिकाफ्टर से पुष्पवर्षा…

इस सामूहिक विवाह में 236 वे बेटियां हैं, जिनके पिता का अवसान हो चुका है। सवाणी ग्रुप हर साल इस तरह के सामूहिक विवाह का आयोजन करता आ रहा है। बेटियों के कन्यादान के अलावा शादी के बाद की सभी जरूरतों को पूरा भी किया जाता है। हर साल बेटियों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। पिछले साल 151 बेटियों की शादी की गई थी। इस बार इस समारोह में हेलिकाफ्टर से पुष्पवर्षा भी की गई। शादी के दौरान ढोल-नगाड़े नहीं, बल्कि 125 शहनाइयां एक साथ बजी थी। इस समारोह में देशभर के लोग शामिल हुए। शादी में 238 तरह की मिठाइयां बनाई गई थी। 8 महीने पहले से ही इसकी तैयारियां चल रही थीं। शादी के 75 हजार निमंत्रण बांटे गए थे।

loading...
loading...