Breaking News

राज्य के हर घर तक पहुंचेगा नल का पानी : सीएम नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहा कि पहले लोग पोखर, कुंआ, चापाकल का पानी पीते थे, लेकिन अब ग्रामीण हो या शहरी, हर घर तक नल का जल उपलब्ध कराया जा रहा है। हर घर तक पक्की गली-नाली का निर्माण कराया जा रहा है। सभी टोलों तक पहुंचने के लिए पक्की सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। इन सब कार्यों को चार वर्ष में पूरा किया जाना है। मुख्यमंत्री ने गुरुवार को ‘संवाद’ में ‘मुख्यमंत्री वासस्थल क्रय सहायता योजना’ और ‘मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना’ का शुभारंभ किया।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि जल्द ही ग्राम परिवहन योजना की विधिवत शुरुआत की जाएगी, जिसमें प्रत्येक पंचायत में पांच लोगों को वाहन खरीदने के सरकार एक लाख तक अनुदान देगी। ताकि आम लोगों को आने-जाने के लिए यात्री वाहन उपलब्ध हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं जब विधायक और सांसद था तो अधिकांश जगहों पर पैदल ही जाने का एकमात्र विकल्प था। सड़कें नहीं थीं। मैं रोजना करीब 17-18 किलोमीटर पैदल चलता था। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे शौचालय का उपयोग करें। खुले में शौच न करें। यह भी आग्रह किया कि आप लोग बेटे और बेटी को जरूर पढ़ाएं। जो पढ़ेगा वही आगे बढ़ेगा। महिलाओं से कहना चाहता हूं कि आपलोग जीविका से जुड़िए, उससे न सिर्फ आपकी आमदनी बढ़ेगी बल्कि आपका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा।

आवास निर्माण के लिए प्रति परिवार 1.20 लाख रुपये
सीएम ने कहा कि 1996 से पहले इंदिरा आवास व अन्य योजनाओं के तहत निर्मित आवास वर्तमान में जीर्ण-शीर्ण स्थिति में हैं। इसमें अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग के परिवार रहते हैं। इन परिवारों को आवास उपलब्ध कराने को मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत आवास निर्माण के लिए 1.20 लाख देगी। आज 244 लाभार्थियों के लिए इसकी स्वीकृति दी गई। इन्हें तीन किस्तों में भुगतान होगा। ग्रामीण विकास विभाग 5 माह में ‘मुख्यमंत्री वास स्थल क्रय सहायता योजना’ के तहत 22 हजार व मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत 20 हजार से ज्यादा लोगों को राशि उपलब्ध कराएगा।

हर आदमी का अपना पता हो
उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि हर व्यक्ति की रोटी, कपड़ा और मकान न्यूनतम आवश्यकता है। अब इस आवश्यकता में मोबाइल भी जुड़ गया है। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति का अपना पता होना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि उनके पास अपना घर हो। इसी को लेकर राज्य सरकार ने उक्त दोनों योजनाओं का शुभारंभ किया है। सभी घरों में शौचालय निर्माण के प्रधानमनंत्री नरेंद्र मोदी के लक्ष्य को बिहार अक्टूबर, 2019 के पहले हासिल कर लेगा। ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, मुख्य सचिव दीपक कुमार सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

loading...
loading...