Breaking News

राज्यसभा चुनाव: जीत को लेकर बीजेपी आश्वस्त, कांग्रेस कर रही कड़ी कसरत

आज देशभर की निगाहें राज्यसभा के उपसभापति के लिए होने जा रहे चुनाव पर है, जहां एनडीए उच्च सदन में बहुमत के आंकड़ों में कमी के बावजूद जीत को लेकर पूरी तरह आश्वस्त दिख रही है। जबकि, दूसरी तरफ कांग्रेस को सदन के अंदर एंटी बीजेपी मोर्चा के खिलाफ कांग्रेस कांग्रेस के अपने नामित उम्मीदवार के पक्ष में क्षेत्रीय पार्टियों को एकजुट करने में काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

कांग्रेस पार्टी की ओर से बीके हरिप्रसाद को उम्मीदवार के तौर पर उतारना विपक्षी एकता का लिटमस टेस्ट साबित हो सकती है। इस चुनाव के बाद विपक्ष की तस्वीर साफ हो जाएगी कि कौन-कौन से दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस के साथ खड़े रहते हैं और कौन से नहीं। हालांकि कांग्रेस इस पद पर किसी सहयोगी दल के सदस्य को उतारना चाहती थी, पर कोई इसके लिए तैयार नहीं हुआ।

बीजद के समर्थन से एनडीए का पलड़ा भारी  
उपसभापति के चुनाव में ओडिशा के मुख्यमंत्री और बीजद के नेता नवीन पटनायक ने देर रात एनडीए उम्मीदवार को समर्थन देने का एलान किया। इससे एनडीए का पलड़ा भारी हो गया है। बीजद के पास राज्यसभा में नौ सांसद हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक से हरिवंश का समर्थन करने की अपील की थी।

पीडीपी मतदान में हिस्सा नहीं लेगी
पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी ने चुनाव में गैरहाजिर रहने का फैसला लिया है। राज्यसभा में पीडीपी के दो सदस्य हैं। हाल में जम्मू कश्मीर के पीडीपी सरकार से भाजपा ने समर्थन वापस ले लिया था। इसके बाद महबूबा मुफ्ती की सरकार गिर गई थी।

बहुमत का जादुई आंकड़ा
244 सदस्य ही वोट डालेंगे इस चुनाव में राज्यसभा के।
123 सीटें मिलनी जरूरी होंगी जीत के लिए।

एनडीए- 
96 सीटें है वर्तमान में राज्यसभा में एनडीए के पास।
73 सीटें हैं भाजपा के पास।
06 सदस्य हैं जदयू के पास।
03-03 तीन सदस्य हैं शिवसेना और अकाली दल के पास।
11 अन्य दलों के सदस्य हैं।

यूपीए-
113 सीटें हैं यूपीए के पास
50 सीटें के साथ कांग्रेस यूपीए में सबसे बड़ी पार्टी
13 सदस्य तृणमूल कांग्रेस के पास हैं
13 सदस्य सपा
05 सदस्य आरजेडी
04 बीएसपी, 05 सीपीएम, 02 सीपीआई, 04 डीएमके
16  अन्य दल

इन दलों पर रहेगी निगाहें 
अन्नाद्रमुक (13), बीजद (09), टीआरएस (06) और वाईएसआर कांग्रेस (02) आम आदमी पार्टी- (03)

ये हैं उम्मीदवार:-

हरिवंश(एनडीए उम्मीदवार)
1956 में यूपी के बलिया में जन्मे हरिवंश जनता दल यूनाइटेड के सांसद और वरिष्ठ पत्रकार हैं।
1977 में हुए जेपी आंदोलन से वे खासे प्रभावित रहे हरिवंश ने काशी हिंदू विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में एमए और पत्रकारिता की पढ़ाई की।
1990-91 में वे तत्कालीन प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के अतिरिक्त सूचना सलाहकार रहे।
2014 में जेडीयू ने हरिवंश को राज्यसभा के लिए नामांकित किया और वे पहली बार उच्च सदन में पहुंचे।

बीके हरिप्रसाद( विपक्षी उम्मीदवार)
64 साल के बीके हरिप्रसाद राज्यसभा में कांग्रेस के सदस्य हैं। वे बेंगलुरू से आते हैं।
2014 में वे भाजपा के अनंत कुमार से लोकसभा का चुनाव हार गए थे। इसी साल राज्यसभा के सदस्य बने।
1980 से राजनीति में सक्रिय हरि प्रसाद कांग्रेस के महासचिव भी हैं।
1990 में पहली बार राज्यसभा के सदस्य चुने गए थे। उसके बाद 2004, 2010 और 2013 में फिर राज्यसभा के लिए चुने गए।

loading...
loading...