Breaking News

मुंबई: अगले 48 घंटों में भारी बारिश का अलर्ट जारी 11-13 जुलाई तक ये ट्रेनें रहेंगी निरस्त

मुंबई में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। बीते कई दिनों से लोगों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अनुमान लगाया जा रहा है कि बुधवार को भी अधिकतर इलाकों में तेज बारिश होगी। स्टेशनों पर भारी जल जमाव के कारण यात्रियों की परेशानी बढ़ गई है। इससे दिल्ली से मुंबई के बीच संचालित होने वाली ट्रेनें प्रभावित हो रही हैं।

मंगलवार को मुंबई व इस रूट पर चलने वाली करीब डेढ़ दर्जन ट्रेन निरस्त कर दी गईं। 11 जुलाई को आधा दर्जन ट्रेनें निरस्त रहेंगी। 12 जुलाई को 2 और 13 जुलाई को एक ट्रेन का परिचालन निरस्त कर दिया गया है। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि अगले तीन दिन में हालात का जायजा लेने के बाद ट्रेन इस रूट पर चलाने का निर्णय लिया जाएगा।

ट्रेनों के निरस्त होने के कारण यात्रियों को परेशान होना पड़ रहा है। मंगलवार को सिक्किम महानंदा एक्सप्रेस, जम्मूतवी-अजमेर एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 19023 मुंबई सेंट्रल-फिरोजपुर जनता एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12953 मुंबई सेंट्रल-हजरत निजामुद्दीन अगस्त क्रांति राजधानी एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 09003 बांद्रा टर्मिनस-हजरत निजामुद्दीन एसी सुपरफास्ट राजधानी एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12909 गरीब रथ एक्सप्रेस, ट्रेन संख्या 12951 मुंबई सेंट्रल-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन निरस्त रहीं।

आज ये ट्रेनें रहेंगी निरस्त

– ट्रेन संख्या 12413 अजमेर-जम्मूतवी एक्सप्रेस
– ट्रेन संख्या 12954 हजरत निजामुद्दीन-मुंबई सेंट्रल-अगस्त क्रांति राजधानी
– ट्रेन संख्या 09004 हजरत निजामुद्दीन-बांद्रा सुपरफास्ट एसी राजधानी
– ट्रेन संख्या 12910 हजरत निजामुद्दीन-बांद्रा गरीबरथ एक्सप्रेस
– ट्रेन संख्या 12952 नई दिल्ली-मुंबई सेंट्रल राजधानी एक्सप्रेस
– ट्रेन संख्या 19019 बांद्रा टर्मिनल-देहरादून एक्सप्रेस

12 जुलाई को निरस्त रहने वाली ट्रेनें

– ट्रेन संख्या 15484 दिल्ली जंक्शन-अलीपुर-सिक्किम महानंदा एक्सप्रेस
– ट्रेन संख्या19024 फिरोजपुर-मुंबई सेंट्रल जनता एक्सप्रेस

13 जुलाई को निरस्त रहने वाली ट्रेन

– ट्रेन संख्या 19020 देहरादून बांद्रा टर्मिनल एक्सप्रेस

मध्य रेलवे की लोकल सेवाएं लड़खड़ाईं

महानगर के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं। मध्य रेलवे की लोकल सेवाएं लड़खड़ा गई हैं। वहीं पश्चिम रेलवे के नालासोपारा, वसई, विरार के दरम्यान रेल पटरियों पर पानी भरने से लोकल और मेल ट्रेनों की आवाजाही बंद कर दी गई है। इन इलाकों में तीन दिन से बिजली भी नहीं है।

वसई और विरार के बीच मंगलवार को वडोदरा एक्सप्रेस के फंस जाने से पश्चिम रेलवे ने अगले आदेश तक लोकल सहित एक दर्जन मेल ट्रेनों का परिचालन रोक दिया। एनडीआरएफ के जवानों ने यात्रियों को नाश्ते के पैकेट पहुंचाए। पुणे जाने वाली डेक्कन और इंद्रायणी एक्सप्रेस सहित नासिक की ओर जाने वाली कई ट्रेनें रद्द कर दी गईं।

भारी बारिश में मुंबई एयरपोर्ट पर फिसला विमान, यात्री सुरक्षित

मुंबई एयरपोर्ट पर भारी बारिश के बीच मंगलवार को एक बड़ा विमान हादसा उस वक्त टल गया जब एयर इंडिया एक्सप्रेस का एयरक्राफ्ट लैंडिंग करने के वक्त रनवे को पार कर गया। विमान में सवार सभी यात्री सुरक्षित हैं। विमानन कंपनी ने बताया कि विमान को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। रनवे भी क्षतिग्रस्त नहीं हुआ है। बयान के मुताबिक, दोपहर करीब दो बजकर 50 मिनट पर एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट IX213 मुख्य रनवे-27 के बंद होने के कारण वैकल्पिक रनवे-14 पर लैंड कर रही थी।

तभी यह फिसलती हुई आगे चली गई। हालांकि रनवे खत्म होने से ठीक 10 फीट पहले यह जाकर रुक भी गई। एयरलाइन ने बताया कि विजयवाड़ा से मुंबई आ रहे विमान ने सही तरीके से लैंडिंग की थी। पायलट ने ब्रेक का पूरा इस्तेमाल भी किया था, लेकिन भारी बारिश की वजह से रनवे रपटीला होने के कारण यह निर्धारित स्थान पर नहीं रुक सका।

पिछले साल भी हुआ था ऐसा ही हादसा

पिछले साल सितंबर में 183 यात्रियों को ला रहा स्पाइस जेट का एक विमान भी यहां लैंडिंग के दौरान फिसलते हुए रनवे को पार कर गया था। इस घटना की वजह भी भारी बारिश थी। भारी बारिश के कारण मंगलवार को मुंबई एयरपोर्ट से कई उड़ानें भी रद्द कर देनी पड़ी और डब्बावालों ने भी काम बंद रखने का फैसला किया। वसई, नालासोपारा, विरार और पालघर के कई इलाकों में घरों में पानी भर गया है। स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई है।

गुरुवार तक भारी बारिश की चेतावनी

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बृहस्पतिवार तक भारी बारिश का अनुमान व्यक्त किया है। शहर और आस-पास के क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति करने वाली सबसे बड़ी तुलसी झील लबालब भर जाने से उफनकर बह रही है।

विधानसभा में उठा बारिश का मुद्दा

मुंबई में भारी बारिश से जलभराव का मुद्दा मंगलवार को विधानसभा में उठा। पूर्वमंत्री मो. आरिफ नसीम खान ने बीएमसी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए जांच की मांग की। उन्होंने कहा कि बीएमसी ने इस साल सड़कों की मरम्मत के लिए 1200 करोड़ रुपये खर्च किए। बावजूद सड़कें पानी में डूब गईं।

loading...
loading...