Breaking News

भाजपा विधायक ने कहा- पंडित नहीं थे नेहरू, खाते थे गाय और सुअर का मांस

राजस्थान के भाजपा विधायक ज्ञानदेव आहूजा जो अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में छाए रहते हैं उन्होंने एक बार फिर विवादास्पद बयान दिया है। इस बार उन्होंने देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और उनकी पार्टी कांग्रेस को लेकर टिप्पणी की है। अलवर के रामगढ़ से विधायक आहूजा का कहना है कि नेहरू पंडित नहीं थे और यह उपाधि उनके नाम में कांग्रेस पार्टी ने जोड़ी है।

ज्ञानदेव आहूजा ने कहा, ‘नेहरू पंडित नहीं थे। जो शख्स गाय और सुअर का मांस खाता है वह पंडित नहीं हो सकता। कांग्रेस ने उनके नाम में पंडित जोड़ा है।’ उन्होंने यह बयान शुक्रवार को भाजपा मुख्यालय का दौरा करने के बाद कहीं। उन्होंने कांग्रेस पर जातिवाद के आधार पर चुनाव लड़ने का आरोप लगाया। रामगढ़ के विधायक ने यह बातें राजस्थान के पीसीसी प्रमुख सचिन पायलट के बयान के बाद कहीं।

पायलट ने कहा था कि राहुल गांधी अपनी दादी इंदिरा गांधी के साथ मंदिर जाया करते थे। जिसपर पलटवार करते हुए आहूजा ने कहा, ‘राहुल गांधी कभी इंदिरा गांधी के साथ मंदिर नहीं गए। यदि मेरा दावा गलत है तो मैं अपना पद छोड़ दूंगा या सचिन पायलट को अपना पद छोड़ना पड़ेगा।’ उन्होंने राहुल की प्रस्तावित मंदिर यात्रा पर सवाल उठाते हुए पूछा, ‘पायलट, गहलोत या गुलाम नबी आजाद को यह बताना चाहिए कि राहुल का यज्ञोपवीत संस्कार कब हुआ। जनेऊ यज्ञोपवीत संस्कार होने के बाद ही धारण किया जाता है।’

यह पहली बार नहीं है जब आहूजा ने गांधी-नेहरू परिवार और कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है। भाजपा विधायक ने हाल ही में गोहत्या को आतंकवाद से बड़ा अपराध करार दिया था। उन्होंने लव-जिहाद पर बयान देकर भी विवाद खड़ा कर दिया था। एएनआई से बात करते हुए उन्होंने दावा करते हुए कहा था कि हिंदू परिवार की लड़कियों को लक्ष्य करके लव जिहाद में फंसाया जाता है और फिर उनसे जबरन धर्म बदलवाया जाता है।

loading...
loading...