Breaking News

बड़ी खबर: आतंकवाद से परेशान हुआ चीन, पाकिस्‍तान से लगी सीमा…

चीन के शिनजियांग प्रांत की सरकार ने मंगलवार को घोषणा की है कि वह पाकिस्‍तान से सटी अपनी सीमा पर सुरक्षा और सख्‍त करेगा। सरकार अब पाकिस्‍तान से लगी सीमा को सील करने जा रही है।

बड़ी खबर: 28 फरवरी तक पैन कार्ड जमा करना है जरुरी, नही तो आपका बैंक खाता…

यह कदम इसलिए उठाया जा रहा है ताकि यहां से आतंकियों की घुसपैठ न होने पाए। बड़ी हैरानी की बात है कि यही चीन जैश-ए-मोहम्‍मद के कमांडर मौलाना मसूद अजहर को आतंकी मानने से इंकार करता आ रहा है।

बड़ी खुशखबरी: गरीबों के लिए धड़का मोदी का दिल, हर एक गरीब को बाटेंगे घर

शिनजियांग सरकार के हवाले से यह जानकारी दी है। सरकार की ओर से कहा गया है कि वर्ष 2017 में इस क्षेत्र में आतं‍कवादियों को प्रांत में दाखिल होने और प्रांत में पहले से मौजूद आतंकवादियों को इस क्षेत्र के छोड़ने से रोकने के लिए यह कदम उठाया जाएगा।

विशेषज्ञों की मानें तो चीन को इस बात से नाराजगी है कि पाक में आतंकियों की गतिविधियां खुलेआम जारी हैं और वह इस पर लगाम लगाने में असफल साबित हुआ है। चीन को इस बात का भी डर है कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान में आतंकियों को मिल रही ट्रेनिंग उनके लिए खतरा है साबित हो सकती है।
हाल ही है चीन के शिनजियांग प्रांत में पिछले कुछ दिनों में हिंसक हमले हुए हैं। यहां पर मौजूद लोग मानते हैं कि हमले करने वाले आतंकवादियों ने चीन के बाहर जाकर प्रशिक्षण हासिल किया और फिर गैरकानूनी तरीके से वापस लौट गए। शिनजियांग के हालातों को देखकर यहां के राजनेताओं में चिंता की स्थिति है। उन्‍हें बढ़ते इस्‍लामिक आतंकवाद को लेकर काफी चिंता है। वे यहां के स्‍थानीय आतंकियों के पाकिस्‍तान और अफगानिस्‍तान में स्थित तालिबानी कैंपों और स्‍थानीय आतंकियों के बीच करीबी संपर्क को लेकर भी काफी परेशान हैं।
सत्तारूढ़ कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) के शिनजियांग के काशगर क्षेत्र के टॉप ऑफिसर अनिवर तुरसोन के हवाले से कहा कि कुछ आतंकियों ने अवैध रूप से भागने के लिए भी सीमा पार की। उन्होंने कहा कि हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि कोई भी आतंकवादी शिनजियांग में न तो प्रवेश कर पाए और न ही यहां से भाग पाए, खासकर तब जब हमारे पड़ोसी देश बढ़ते आतंकी खतरों का सामना कर रहे हैं।