Breaking News

ब्रेकिंग न्यूज़: राहुल गांधी के करीबी नेता की परिवार समेत हत्या

पंजाब में चुनावों के बीच बड़ी खबर आ रही है। पंजाब के मुक्तसर में कांग्रेस के बड़े नेता की परिवार समेत हत्या कर दी गई है।मुक्तसर के  नजदीकी गांव रूपाणा के रहने वाले कांग्रेसी नेता मास्टर मूल चंद (65), उनकी पत्नी जगजीत कौर (60) व पुत्री सोनू (26) की संदिग्ध हालत में मौत हो गई जबकि मूल चंद के पुत्र बंटी (24) की हालत गंभीर है। मूलचंद राहुल और अमरिंदर के करीबी नेता माने जाते हैं। 

अगर नहीं मिली साइकिल तो मोटरसाइकिल पर चुनाव लड़ेंगे, अखिलेश यादव

बताया जाता है कि इन सभी की तबीयत मंगलवार रात साग खाने से बिगड़ी थी। बुधवार को दवाई भी ली थी। लेेकिन शाम को तीन बजे तीनों की मौत हो चुकी थी और लड़का तड़पता मिला। मास्टर मूल चंद ने 2012 के चुनाव और इस बार होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस से टिकट मांगी थी लेकिन दोनों बार ही उन्हें मायूसी हाथ लगी।
बंटी के शरीर से सल्फास जैसी चीज निकली है : डाॅक्टर
अस्पताल के डॉक्टर मुकेश बांसल ने बताया कि बंटी के शरीर अंदर से निकाली जहर की संदिग्ध सल्फास जैसा है, सही जानकारी टेस्ट के बाद मिलेगी। उन्होंने बताया कि बंटी की हालत भी बहुत गंभीर है। उसे फिलहाल आईसीयू में एडमिट किया गया है।
पिता ने पूछा रात में पूछा हाल-चाल और सुबह हो गई मौत
पीड़ित परिवार की पड़ोसी सुरजीत कौर व अन्य लोगों के अनुसार मूलचंद का बेटा बंटी आज दिन में उसके पास आया और बताया कि उसके माता-पिता व बहन की तबीयत खराब है। उसने बताया कि मंगलवार की रात को साग से रोटी खाने के बाद से उन सभी की तबीयत खराब हुई है। गांव के डॉक्टर से दवाई ली है। बंटी ने पड़ोसी सुरजीत को दोपहर की रोटी पकाने के लिए कहा था। सुरजीत कौर ने बताया कि उसने मास्टर मूल चंद के घर जाकर उनका हाल-चाल पूछा तो उन्होंने कहा कि पेट में दर्द है, अब कुछ ठीक है।
रात तीन बजे पड़ोसी ने पूछा हाल
इस तरह दिन में करीब 3 बजे जब पड़ोसी ने उनका हाल-चाल पूछने के लिए घर का दरवाजा खटखटाया तो अंदर से कोई जवाब नहीं आया। दीवार पार करके अंदर गए तो देखा कि बंटी खाट से नीचे गिरा तड़प रहा था व अन्य तीन सदस्य बेसुध अपने खाट पर पड़े थे। गांव के लोगों ने चारों सदस्यों को यहां के एक निजी अस्पताल पहुंचाया तो डॉक्टरों ने तीनों सदस्यों को मृत करार दिया, जबकि बंटी को आईसीयू में दाखिल कराया गया है। इस अवसर पर उप पुलिस कप्तान दीपक कुमार ने बताया घटना का कारण अभी स्पष्ट नहीं है। बंटी के होश आने के बाद सही तस्वार साफ होगी। तीनों मृतकों की लाशें सिविल अस्पताल में पहुंचा दी गई हैं। बंटी बयान देने के काबिल नहीं। कल पोस्टमार्टम के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।