Breaking News

पूर्व सांसद वीरपाल सिंह ने सपा छोड़ी, मुलायम सिंह के थे करीबी

मुलायम वादी पूर्व सांसद वीरपाल सिंह यादव ने बुधवार को समाजवादी पार्टी को अलविदा कह दिया। उन्होंने समाजवादी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। अभी उन्होंने कोई पार्टी ज्वाइन नहीं की है लेकिन चर्चा है कि वे शिवपाल सिंह यादव के सेक्युलर मोर्चा में जा सकते हैं। वीरपाल के साथ पूर्व डिप्टी मेयर, बिजनौर के प्रभारी, भूमि विकास बैंक के चेयरमैन, प्रधान बीडीसी सदस्य सहित 50 लोगों ने सपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया है।

मालूम हो कि सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के करीबी रहे पूर्व सांसद वीरपाल सिंह यादव करीब 20 साल तक बरेली में पार्टी के जिलाध्यक्ष रहे थे। अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि जिस पार्टी को पसीना बहाकर सींचा था, उसे छोड़ते हुए दुख हो रहा है लेकिन मजबूर हूं। अब यहां बुजुर्गों का सम्मान नहीं रह गया है। अनुशासनहीनता चरम पर है। नेता जी ने जिन सिद्धांतों को लेकर पार्टी बनाई थी, उससे भटक गई है। बीस महीनों से सपा भाजपा की षडयंत्रकारी साजिशों का विरोध नहीं कर पाई। बरेली में दो माह में खैलम और उमरिया गांव में उत्पात हुआ लेकिन सपा का कोई नेता पीड़ितों का हाल लेने तक नहीं गया। इंतजार कर मैं स्वयं उमरिया गया।

इसके बाद मेरे खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई। कोई पार्टी का पदाधिकारी मेरा पक्ष जानना तो दूर फोन से भी हाल नहीं लिया। बकौल वीरपाल, ‘मैं साम्प्रदायिकता के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा था लेकिन पार्टी का सहयोग नहीं मिला। स्थानीय स्तर पर कदम कदम पर अपमान अलग मिल रहा था। ऐसे में अब पार्टी में रहने का कोई औचित्य मुझे नहीं लग रहा है।’ अंत में वीरपाल ने ये भी कहा कि अखिलेश यादव भी यही चाहते थे लेकिन खुलकर बोल नहीं पा रहे थे। मैंने पार्टी छोड़कर अखिलेश यादव की मंशा पूरी कर दी है।

loading...
loading...