Breaking News

ताबड़तोड़ सेंचुरी के साथ क्रिस गेल ने लिस्ट-ए क्रिकेट से लिया संन्यास

दुनिया के सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में शुमार वेस्टइंडीज के क्रिस गेल ने लिस्ट ए क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। गेल ने अपनी घरेलू टीम जमैका की ओर से सेंचुरी ठोकी और इसके साथ ही लिस्ट ए क्रिकेट को अलविदा कह दिया। गेल ने सुपर 50 मुकाबले में जमैका की तरफ से अपना आखिरी लिस्ट ए मैच खेला।

उन्होंने बारबाडोस के खिलाफ शानदार शतक जमाकर टीम को जीत दिलाई। गेल ने 114 गेंदों में 10 चौके और 8 छक्के उड़ाते हुए 122 रनों की बेहतरीन पारी खेली। 39 वर्षीय गेल का ये लिस्ट-ए में 27वां शतक था। गेल के शतक के बावजूद जमैका की टीम 226 रन पर आउट हो गई, लेकिन उसने बारबाडोस को 193 रनों पर ही समेट कर 33 रनों से मैच जीत लिया। गेल ने शतक के अलावा मैच में एक विकेट भी हासिल किया। उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया।

‘पहले ही कर दी थी संन्यास की घोषणा’

वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज गेल ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि ये जमैका के लिए उनका आखिरी लिस्ट-ए मैच होगा। हालांकि उन्होंने कहा है कि वो जमैका के लिए एक चार दिवसीय मुकाबले में खेलेंगे जो उनके देश के लिए उनका आखिरी मैच होगा। गेल के आखिरी लिस्ट-ए मैच को देखते हुए दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया। इस दौरान जमैका और बारबाडोस के खिलाड़ियों ने एक साथ मिलकर इस दिग्गज़ खिलाड़ी को सम्मान दिया। गेल ने लिस्ट-ए में अपना पदार्पण 1998/99 में किया था। उन्होंने लिस्ट-ए में 356 मैच खेले और 12436 रन बनाए जिनमें 27 शतक और 65 अर्धशतक शामिल हैं।

‘अपने बच्चों को बड़ा होते देखना चाहता हूं’

मैच के बाद गेल ने कहा, ‘जमैका के लिए अखिरी 50 ओवर के मुकाबले में शतक लगाना बहुत ही सुखद रहा। मैं हमेशा ही ऐसा ही कुछ करने की सोचा करता था। टीम को जीत दिलाना इसे और भी खास बनाता है।’ गेल ने साथ ही कहा, ‘अपने देश की तरफ से खेलना हमेशा ही खुशी देता है। मैं अपने सभी फैन्स को धन्यवाद देता हूं। मैं साथ ही उनका शुक्रगुजार हूं कि 39 साल की उम्र में यहां खड़ा हूं और जमैका के लिए आखिरी मैच में शतक बना पाया।’ उन्होंने कहा, ‘मैं 25 साल से क्रिकेट खेल रहा हूं ये व्यक्तिगत तौर पर काफी बड़ी उपलब्धि है। अब मेरा परिवार मेरे साथ है। उनके साथ जितना संभव हो उतना वक्त बिताना चाहूंगा और मैं बच्चों को बड़ा होते देखना चाहता हूं।’

loading...
loading...