Breaking News

जवाहर बाग बनने की दहलीज पर खड़ा कानपुर का लहुरीमऊ गांव, हालात भयावह

images-70रविवार रात से कानपुर के घाटमपुर के लहुरीमऊ गांव का नजारा ही बदला हुआ है। गांव में घुसते ही तीन स्थानों पर तार में कंटीली झाडिय़ां लगाकर रास्ते पर बैरियर लगा दिए गये। पहले बैरियर पर लाठी-डंडा लेकर खड़े ग्रामीण हर आने-जाने वाले से परिचय पूछते हैं। उसके बाद मोबाइल से अंदर सूचना देकर अनुमति के बाद ही प्रवेश की इजाजत देते हैं। इजाजत के बाद चार-पांच लठैत जवान आने वाले शख्स को भाकियू जिलाध्यक्ष निरंजन राजपूत और महिला जिलाध्यक्ष विशेखा राजपूत के पास ले जाते हैं। गांव में स्थित एक तीन मंजिल की धर्मशाला के सबसे नीचे तख्त के बने मंच पर निरंजन राजपूत और विशेखा बैठते हैं। बरामदे में लाठी-डंडे लेकर बैठी सैकड़ों महिलाएं ढोलक की थाप पर भजन-कीर्तन कर रात व्यतीत कर रही हैं

बाहर धर्मशाला के अंदर मैदान में भंडारा चलता है। वहां कुछ किसान खाना बना रहे हैं, बड़ी सी कढ़ाई में पूडिय़ां और सब्जी बन रही है। वहीं कतार में बैठकर किसान खाना खा रहे हैं। गांव के बाहर भी अलग-अलग समूहों में अलाव जलाकर ग्रामीण रखवाली करते हैं। सभी के हाथ में लाठी और डंडे हैं। धर्मशाला की दूसरी मंजिल पर करीब सौ लोग लाठी-डंडे लेकर तैनात हैं। तीसरी मंजिल पर भी बाउंड्रीवाल के चारो ओर पत्थरों के ढेर लगाये गए हैं। यहां पर छत के चारों कोनों पर एक-एक लठैत बेहतर टार्च के साथ मौजूद है, जो कि समय-समय पर धर्मशाला के पीछे खेतों में टार्च लगाकर आहट लेते रहते हैं।
हथियारों के साथ बढ़ा है हौसला
मुख्यमंत्री की जनसभा में जमकर हंगामा करने के बाद दर्ज हुए मुकदमे के बावजूद पुलिस द्वारा कोई प्रभावी कार्रवाई न हो पाई और जब रविवार को गिरफ्तारी करने गई पुलिस टीमों को पीटने के बाद निरंजन, विशेखा और उसके समर्थकों हौसला बढ़ा हुआ है। रात में बवाल के बाद होने वाली पुलिस कार्रवाई का भी कोई खौफ ग्रामीणों पर नहीं दिखा। बताया जा रहा है कि घटना के बाद से नवेली पावर प्लांट से प्रभावित हुए किसानों की और भीड़ वहां पहुंच गई। धरनास्थल पर हथियार भी बढ़े हैं।
गैस सिलेंडर और पेट्रोल भी किया जमा
जिस धर्मशाला में निरंजन राजपूत ग्रामीणों के साथ डेरा जमाए है, वहां पांच-पांच किलो वाले कई गैस सिलेंडर और पेट्रोल की केन मौजूद हैं। इसके अलावा असलहे भी हैं। धर्मशाला में मौजूद निरंजन राजपूत ने कहा कि वह शांतिपूर्ण ढंग से धरना दे रहे हैं। जिला प्रशासन के लोग बात करना चाहते हैं तो वह अकेले आएं। पुलिस फोर्स ने यदि अराजक कार्रवाई की तो हर स्तर तक उसका जवाब दिया जाएग

छावनी में तब्दील लहुरीमऊ गांव
हमीरपुर : ग्रामीणों से पिटी पुलिस गांव के अंदर जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है। धरना दे रहे भाकियू नेताओं और ग्रामीणों को पुलिस ने चारों ओर से घेर रखा है। गांव के अंदर हो रही हलचल की खबर पुलिस के उच्चाधिकारी बराबर ले रहे हैं। कानपुर के एएसपी राजेश कुमार, घाटमपुर एसडीएम सुखवीर ङ्क्षसह, तहसीलदार संजीव कुमार सहित विधनू, शिवराजपुर, घाटमपुर थाने के फोर्स ने हाइवे के दुर्गा मंदिर मोड़ पर कैंप बना लिया है। वही से गांव के अंदर की हर पल के घटनाक्रम की जानकारी ले रहे हैं। फतेहपुर जिले के चांदपुर थाने का फोर्स भी गांव के पास लगा दिया गया। हमीरपुर यमुनापुल के पास हमीरपुर कोतवाली, कुरारा थाना व सुमेरपुर थाने का फोर्स लगा दिया गया।