Breaking News

चुनाव में पुतिन की भारी जीत, चौथी बार बनेंगे रूस के राष्ट्रपति

रूस में चौथी बार व्लादिमीर पुतिन ने राष्ट्रपति चुनाव में जीत हासिल कर ली है. पुतिन को 75 फीसदी वोट मिले हैं. भारी मतों के साथ जीत सुनिश्चित होने के साथ ही पुतिन ने मास्को में अपने समर्थकों को संबोधित किया. उन्होंने वोटरों को धन्यवाद देते हुए कहा कि रूसी लोगों ने उन्हें वोट देकर उनके प्रति विश्वास और उम्मीद जताई है.

रूस में राष्ट्रपति का कार्यकाल 6 वर्षों का होता है, इसका मतलब है कि पुतिन 2024 तक रूस के राष्ट्रपति बने रहेंगे. इस चुनाव में मुख्य विपक्षी नेता अलेक्सई नवालनी को प्रतिबंधित कर दिया गया था.

मालूम हो कि पुतिन पहले ही जोसेफ स्टालिन के बाद सबसे लंबे समय तक इस पद पर रहने वाले नेता बन चुके हैं, इस जीत के बाद वह वर्ष 2024 तक राष्ट्रपति पद पर रहेंगे.

कौन-कौन थे सात उम्मीदवार?

इस चुनाव में ऑल पीपुल्स यूनियन पार्टी के सर्गेइ बाबुरिन, कम्युनिस्ट पार्टी के उम्मीदवार पावेल ग्रुडिनि, व्लादिमीर पुतिन , सिविल इनिशिएटिव पार्टी के उम्मीदवार सेनिया सोबचाक, कम्युनिस्ट्स ऑफ रसिया पार्टी के अध्यक्ष मैक्सिम सुरायकिन, बोरिस तितोव, योबलोको पार्टी के सहसंस्थापक ग्रिगोरी यावलिन्सकी और लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ रशिया के प्रमुख व्लादिमीर जिरिनोवस्की उम्मीदवार थे.

किसे कितने मिले वोट…

सेंट्रल इलेक्शन कमीशन ऑफ द रशियन फेडरेशन के परिणामों के अनुसार व्लादिमीर पुतिन को 75 फ़ीसदी वोट मिले हैं. आइए जानते हैं वोटों का प्रतिशत…

व्लादिमीर पुतिन – 75 फीसदी वोट

कम्यूनिस्ट उम्मीदवार पावेल ग्रुडिनिन- 13.3 फीसदी वोट

व्लादिमीर ज्हिरिनॉवस्की- 6.3 फीसदी वोट

केंसिया सोबचक- 1.4 फीसदी वोट

ग्रीगोरी यव्लिन्स्की- 0.8 फीसदी वोट

सर्गेई बाबरिन- 0.6 फीसदी वोट

मैक्सिम सुरैकिन- 0.6 फीसदी वोट

बोरिस टिटोव- 0.6 फीसदी वोट

loading...
loading...