Breaking News

चंडीगढ़: स्वतंत्रता दिवस से पहले गुरुद्वारे में मिले तीन जिंदा बम, छावनी में तबदील हुआ इलाका

स्वतंत्रता दिवस से पहले गुरुद्वारे में तीन जिंदा बम मिलने की खबर हड़कंप मचा हुआ है। लोगों, पुलिस अधिकारियों और सेना के अफसरों की सांसें सूखी हुई हैं, जानिए मामला। मामला चंडीगढ़ का है। स्वतंत्रता दिवस से महज चार दिन पहले खुड्डा अलीशेर में निर्माणाधीन गुरुद्वारा दुखनिवारण साहिब के ग्राउंड फ्लोर की खुदाई के दौरान शुक्रवार की देर शाम तीन जिंदा बम मिलने से हड़कंप मच गया। जमीन की खुदाई में महज कुछ फुट नीचे एक साथ मिले तीन जिंदा बम देखकर कर्मचारी गुरजीत सिंह के होश फाख्ता हो गए। गुरजीत ने तुरंत ठेकेदार सहित गुरुद्वारा प्रबंधन के लोगों को सूचना देकर पुलिस कंट्रोल रूम पर फोन किया। 15 अगस्त से पहले गुरुद्वारा साहिब में बम की सूचना पर एसएसपी निलांबरी विजय जगदले और डीआईजी ओपी मिश्रा तुरंत मौके पर पहुंच गए। उच्चाधिकारियों का काफिला पहुंचने से पहले ही गांव खुड्डा अलीशेर छावनी में तबदील हो गया। होमगार्ड जवानों से लेकर इंस्पेक्टर, एसएचओ-11, एसएचओ सारंगपुर व डीएसपीज मौके पर आ जुटे। एसएसपी ने मौके की जांच कर सेक्टर-11 थाना पुलिस व थाना सारंगपुर पुलिस को दिशा-निर्देश दिए। साथ ही गुरुद्वारा प्रबंधन व निर्माण कार्य में जुटे मजदूरों सहित अन्य से पूछताछ की गई। साथ ही चंडी मंदिर स्थित आर्मी के उच्चाधिकारियों को बम मिलने की सूचना दी गई। रात करीब 12 बजे तक सूचना दिए जाने के बावजूद आर्मी के अधिकारी और बम निरोधक दस्ता मौके पर नहीं पहुंचा था। पुलिस ने प्राथमिक जांच करने के बाद बताया कि गुरुद्वारा साहिब से मिला एक बम करीब पंद्रह किलोग्राम का है। करीब 45 किलोग्राम के तीन बम बताए गए लेकिन माना गया कि वहां पड़े बम का वजन इससे कहीं अधिक हो सकता है।

loading...
loading...