Breaking News

गुजरात और तमिलनाडु में चोरों पर टूटा भीड़ का कहर, 2 की पीट-पीटकर हत्या

गुजरात के बनासकांठा जिले में भीड़ ने चोरी के संदेह पर एक अज्ञात व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस उपनिरीक्षक बीके गोस्वामी ने बताया कि घटना शनिवार रात दंता तहसील के हरीगढ़ गांव में हुई। मामले में छह लोगों को रविवार को गिरफ्तार किया गया।

उन्होंने बताया कि 50 साल का अज्ञात व्यक्ति शनिवार की रात अमरात प्रजापति के घर में कथित तौर पर घुस गया। प्रजापति के परिवार ने दावा किया कि घर में किसी के घुसने की आहट पाकर वो उठ गए और व्यक्ति को पकड़ लिया। गोस्वामी ने बताया कि परिवार के लोगों और गांव के अन्य लोगों ने अधेड़ व्यक्ति को एक पेड़ से बांध दिया और लाठियों से उसे मारा।

रात में जब वह अचेत हो गया तो किसी ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद वहां पर पुलिस की एक टीम पहुंची। उन्होंने बताया कि पुलिस के वहां पहुंचने तक व्यक्ति की मौत हो चुकी थी।

हमने हत्या का एक मामला दर्ज किया है और छह लोगों को रविवार को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि व्यक्ति को पीट-पीट कर मारने में गांव के करीब 50 लोग संलिप्त थे। भीड़ में शामिल रहे अन्य लोगों की पहचान का प्रयास किया जा रहा है।

मोबाइल फोन चोरी के शक में नाबालिग की हत्या
तमिलनाडु के करूर जिले में रविवार को मोबाइल फोन चोरी के संदेह में 15 साल के एक लड़के की भीड़ ने कथित तौर पर पीट-पीट कर हत्या कर दी। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि लड़के को कथित तौर पर छोटी-मोटी चोरी करने की लत थी।

पुलिस के मुताबिक, अल्लालीकोंडनूर गांव में एक व्यक्ति को शक था कि उसके मोबाइल फोन और 3000 रुपये की चोरी के पीछे इस लड़के का हाथ था। इसके बाद कुछ लोगों ने उसकी बुरी तरह पिटाई की। अधिकारी ने कहा कि उग्र भीड़ जब उसका पता पूछते हुए घर आई तो उसकी विधवा मां घर छोड़कर भाग गई।

जब वह अपने घर लौटी तो उसने वहां अपने बेटे को मृत देखा, जिसके शरीर पर चोट के निशान थे। अधिकारी ने कहा कि जांच के बाद यह पाया गया कि उसकी पीट-पीट कर हत्या की गई। इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

loading...
loading...