Breaking News

इंदौर बस हादसा : स्कूल प्रबंधन की निष्ठुरता के बीच समाज ने की ड्राइवर परिवार मदद

इंदौर : इंदौर में दर्दनाक बस हादसा भुलाये नहीं भूल रहा. इस हादसे में पांच बच्चो के साथ बस ड्राइवर राहुल सिसोदिया ने भी अपनी जान गँवा दी थी. उनके परिवार की मदद को पूरा समाज एक जुट हो गया है और उसकी दोनों बेटियों की परवरिश की जिम्मेदारी लेने का बड़ा कम कर रहा है. साथ ही उनकी बीवी को एक स्कूल में नौकरी भी दिलवा दी गई है.

वार्ड 18 के कांग्रेसी पार्षद भूपेंद्र चौहान ने उसकी बड़ी बेटी इशिका की पढ़ाई-लिखाई और भरण-पोषण का खर्च उठाने की पेशकश की. इधर बलाई समाज के अध्यक्ष मनोज परमार ने उसकी सवा महीने की बेटी की जिम्मेदारी उठाने का वादा किया. समाज ने परिवार को तीस हजार रुपए की आर्थिक मदद भी की. ”पार्षद ने बताया कि राहुल के परिवार में कोई कमाने वाला नहीं बचा. उसके ताऊ की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है. ऐसे में उसकी पत्नी और मां पर जिम्मेदारी आ गई. इसे देखते हुए सभी ने परिवार की मदद की है.”

बलाई समाज के अध्यक्ष मनोज परमार ने बताया कि पूरा समाज और गांव स्कूल प्रबंधन के रवैए से नाखुश है.आठ दिन में स्कूल परिवार की आर्थिक मदद नहीं करेगा तो स्कूल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन होगा. राहुल को पूरी घटना का जिम्मेदार बताया जा रहा है, जबकि वह चाहता को बस से कूदकर जान बचा सकता था. उसने आखिरी सांस तक बस को बचाने का प्रयास किया”.

loading...
loading...

Check Also

एक फरवरी या उसके बाद शुरू भर्तिंयों में आर्थिक आधार पर 10 फीसदी आरक्षित करने का आदेश

योगी सरकार ने सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को नौकरियों से लेकर ...