Breaking News

अगर आपके पास भी आ रहा इस नंबर से कॉल तो हो जाएँ सावधान..

 अगर आपके पास भी विदेशी नंबरों से कॉल आ रही है तो आपको सावधान होने की जरूरत है. ऐसा इसलिए क्योकि इन कॉल्स को उठाने का भी चार्ज कटेगा और इन नंबरों पर दुबारा कॉल करने के भी मोटे पैसे देने होंगें साफ़ शब्दों में कहें तो इन कॉल्स की वजह से आप साइबर हमलों का शिकार तो होंगे ही साथ ही पैसों के मामले में भी लम्बी चोट खा सकते है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि पिछले एक सप्ताह से रात के वक्त 96 की दस अंकों वाली डिजिट के नंबर से मिस कॉल आती है. जब इस मामले की जांच की गई तो पता चला कि ये कॉल्स मालदीव के किसी इलाके से किया जा रहा है.मेरठ: अगर आपके पास भी विदेशी नंबरों से कॉल आ रही है तो आपको सावधान होने की जरूरत है. ऐसा इसलिए क्योकि इन कॉल्स को उठाने का भी चार्ज कटेगा और इन नंबरों पर दुबारा कॉल करने के भी मोटे पैसे देने होंगें साफ़ शब्दों में कहें तो इन कॉल्स की वजह से आप साइबर हमलों का शिकार तो होंगे ही साथ ही पैसों के मामले में भी लम्बी चोट खा सकते है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि पिछले एक सप्ताह से रात के वक्त 96 की दस अंकों वाली डिजिट के नंबर से मिस कॉल आती है. जब इस मामले की जांच की गई तो पता चला कि ये कॉल्स मालदीव के किसी इलाके से किया जा रहा है.  इसके लिए कंपनियों ने भी अपने ग्राहकों को मैसेज भेजकर अलर्ट जारी कर दिया है. नोएडा में एएसपी डॉ. त्रिवेणी सिंह के मुताबिक, धोखा देने के इरादे से कॉल स्कैमर्स करते है. उन्होंने बताया कि ऐसी कॉल रिसीव करने पर 3 से 50 रुपये प्रति मिनट काट लिया जाता है. ऐसे लोग लॉटरी जीतने या फिर किसी दूसरी बात को लेकर आपको फ़साने की कोशिश करते है. भारत की सबसे बड़ी दूरसंचार निर्माता कंपनी एयरटेल ने अपने ग्राहकों को अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि यदि किसी कस्टमर के पास इस प्रकार की कॉल आती है तो वह फ़ौरन कस्टमर केयर पर संपर्क करें.  इस मामले पर साइबर एक्सपर्ट्स कर्मवीर सिंह ने बताय कि, 'वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकाल (वीओआईपी) इंटरनेशनल कॉलिंग में काफी सुविधाजनक साधन है. भारत में भी अवैध तरीके से वीओआईपी का इस्तेमाल किया जा रहा है.' उन्होंने बताया कि मेरठ में कई बार वीओआईपी कॉलिंग पकड़ी गई हैं.

इसके लिए कंपनियों ने भी अपने ग्राहकों को मैसेज भेजकर अलर्ट जारी कर दिया है. नोएडा में एएसपी डॉ. त्रिवेणी सिंह के मुताबिक, धोखा देने के इरादे से कॉल स्कैमर्स करते है. उन्होंने बताया कि ऐसी कॉल रिसीव करने पर 3 से 50 रुपये प्रति मिनट काट लिया जाता है. ऐसे लोग लॉटरी जीतने या फिर किसी दूसरी बात को लेकर आपको फ़साने की कोशिश करते है. भारत की सबसे बड़ी दूरसंचार निर्माता कंपनी एयरटेल ने अपने ग्राहकों को अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि यदि किसी कस्टमर के पास इस प्रकार की कॉल आती है तो वह फ़ौरन कस्टमर केयर पर संपर्क करें.

इस मामले पर साइबर एक्सपर्ट्स कर्मवीर सिंह ने बताय कि, ‘वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकाल (वीओआईपी) इंटरनेशनल कॉलिंग में काफी सुविधाजनक साधन है. भारत में भी अवैध तरीके से वीओआईपी का इस्तेमाल किया जा रहा है.’ उन्होंने बताया कि मेरठ में कई बार वीओआईपी कॉलिंग पकड़ी गई हैं.

loading...
loading...